देश भर में किसान कर्ज के बोझ के कारण आत्महत्या कर रहे है, इससे अछुता राजस्थान भी नहीं है. खुद मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के गृहजिले झालावाड के सुनेल में किसान ने खेत पर जाकर आत्महत्या कर ली.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, सुनैल कस्बे निवासी बगदीलाल तेली (65) बाजार गये थे. लेकिन शाम को उन्हें खेत पर एक पेड़ से उन्हें लटका पाया गया. दरअसल उन पर साढ़े 5 लाख रुपए सोसायटी का कर्ज था. जिसके चलते उन्होंने आत्महत्या की.

और पढ़े -   मुस्लिम प्रिंसिपल को झंडा फहराने से रोकने के मामले में 16 गिरफ्तार

इसी बीच खुदकुशी का पता चलने पर  परिजनों से मिलने पहुंचे भाजपा जिलाध्यक्ष संजय जैन ताऊ ने उसने दोनों बेटों पर खुदखुशी की वजह गृह क्लेश लिखाने का दबाव बनाया. साथ ही परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी का लालच भी दिया. भाजपा जिलाध्यक्ष का ऑडियो वायरल हुआ तो उन्होंने कहा कि मंशा परिवार की मदद करने का था. परिजनों से कहना था कि वर्तमान सरकार आपके साथ है. परिवार को आर्थिक सहायता भी दी जाएगी.

और पढ़े -   पश्चिम बंगाल: निकाय चुनाव में चला ममता का जादू, निकली मोदी लहर की हवा

इस पर राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे खुद के गृह जिले में किसान कर्ज तले डूबे हैं और लगातार आत्म हत्या कर रहे हैं. आप अंदाज लगा सकते हैं कि सरकार कितनी संवेदनहीन है. पूरे प्रदेश में किसान कर्ज माफी लागत से अधिक समर्थन मूल्य पर खरीद जैसी मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन सरकार किसानों के साथ राजनीति कर रही है. पायलट ने कहा कि पिछले एक सप्ताह में तीन किसान आत्म हत्याएं कर चुके हैं.

और पढ़े -   कांग्रेस नेता को मौत की धमकी - भारत में रहते ही जिंदा रहना तो मोदी-मोदी कहना होगा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE