मध्यप्रदेश के मंदसौर में हुए किसानों के उग्र आंदोलन से घबरा कर अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने किसानों की कर्जमाफ़ी का ऐलान किया है. जिसके बाद किसानों ने अपना आंदोलन वापस ले लिया है.

शेतकारी संगठन के राजू शेट्टी ने बताया, ‘सरकार ने कर्जमाफी समेत अन्य कई मांगें पूरी करने का वादा किया है. ऐसा न होने पर 25 जुलाई से फिर से आंदोलन किया जाएगा.’

और पढ़े -   गुजरात में स्वाइन फ्लू का कहर, मरने वालों की संख्या पहुंची 242 तक

कर्ज माफी और एमएसपी की गारंटी सहित विभिन्न मांगों के लिए एक जून से शुरू हुए आंदोलन को  बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना का भी समर्थन था.  शिवसेना ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा था कि या तो सरकार किसानों का कर्ज माफ करे या फिर मध्यावधि चुनाव के लिए तैयार रहे.

कर्जमाफी की घोषणा के बाद छोटे किसान नया लोन ले सकेंगे. इसके साथ ही उनका नाम ब्लैक लिस्ट से हटा दिया जाएगा.

और पढ़े -   आदिवासी के घर खाना खाने पहुंचे अमित शाह, शौचालय को लेकर हुई फजीहत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE