मध्यप्रदेश के मंदसौर में हुए किसानों के उग्र आंदोलन से घबरा कर अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने किसानों की कर्जमाफ़ी का ऐलान किया है. जिसके बाद किसानों ने अपना आंदोलन वापस ले लिया है.

शेतकारी संगठन के राजू शेट्टी ने बताया, ‘सरकार ने कर्जमाफी समेत अन्य कई मांगें पूरी करने का वादा किया है. ऐसा न होने पर 25 जुलाई से फिर से आंदोलन किया जाएगा.’

और पढ़े -   गौरक्षकों को ईद उल अजहा पर हुए कुर्बानी बकरों की तेरहवीं मनाना पड़ा महंगा

कर्ज माफी और एमएसपी की गारंटी सहित विभिन्न मांगों के लिए एक जून से शुरू हुए आंदोलन को  बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना का भी समर्थन था.  शिवसेना ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा था कि या तो सरकार किसानों का कर्ज माफ करे या फिर मध्यावधि चुनाव के लिए तैयार रहे.

कर्जमाफी की घोषणा के बाद छोटे किसान नया लोन ले सकेंगे. इसके साथ ही उनका नाम ब्लैक लिस्ट से हटा दिया जाएगा.

और पढ़े -   कर्नाटक के वरिष्ठ कांग्रेस नेता कमरुल इस्लाम का हुआ निधन

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE