एनयू में अफजल गुरु के समर्थन में हुए प्रदर्शन के पक्ष में राशिद ने एक जुलूस निकाला था।

अवामी इत्‍त‍िहाद पार्टी के एमएलए इंजीनियर राशिद पर शनिवार को राजौरी जिले की सीमा पर कुछ लोगों ने हमला किया। सूत्रों के मुताबिक, राशिद जम्‍मू से कालाकोट होते हुए राजौरी जा रहे थे। जब उनकी गाड़ी भामला पहुंची तो कुछ लोगों ने भारत के पक्ष में नारेबाजी करते हुए उनकी गाड़ी पर हमला किया। जेएनयू में अफजल गुरु के समर्थन में हुए प्रदर्शन के पक्ष में राशिद ने एक जुलूस निकाला था। हमलावर इस बात का विरोध कर रहे थे। हमलावरों ने कथित तौर पर उनकी कार के शीशे तोड़ दिए और उन पर स्‍याही भी फेंकी। हालांकि, पुलिसवालों ने विधायक को सुरक्ष‍ित निकाल लिया।

घटना की वजह से सड़क पर जाम लग गया। पुलिस को प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए लाठीचार्ज का इस्‍तेमाल करना पड़ा। इसमें कुछ लोग घायल हो गए। एक शख्‍स को सिर में गंभीर चोट आई, जिसकी वजह से उसे अस्‍पताल में भर्ती कराना पड़ा। इंजीनियर ने आरोप लगाया कि इस हमले में पुलिस भी मिली हुई है। उन्‍होंने कहा कि हमलावर घटनास्‍थल पर उनकी ही गाड़ी का इंतजार कर रहे थे। बता दें कि बीते छह महीने में यह इंजीनियर राशिद पर हुआ दूसरा बड़ा हमला है। बीफ बैन के विरोध में बीफ पार्टी रखने वाले इंजीनियर पर बीजेपी विधायकों ने हमला किया था। इसके कुछ दिन बाद ही दक्षिणपंथी संगठन के कार्यकर्ताओं ने उन पर स्‍याही फेंकी थी। (Jansatta)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें