पशु क्रूरता निवारण अधिनियम से गोवा के पर्यटन के अप्रभावित रहने का दावा करते हुए गोवा के पर्यटन मंत्री मनोहर अजगांवकर ने कहा कि गोवा आने वाले पर्यटकों को मनमुताबिक खाना खाने को मिलेगा.

अजगावकर ने कहा कि पर्यटक गोवा में जो कुछ भी चाहते हैं वह मिलेगा क्योंकि गोवा में बीफ पर प्रतिबंध नहीं है. पर्यटकों को जो भी पसंद हो वे वहां खा सकते हैं. उन्होंने कहा कि गोवा में, हिंदू, मुस्लिम, ईसाई वर्षो से एक साथ रह रहे हैं और राज्य में सांप्रदायिक सौहार्द का माहौल है.

और पढ़े -   योगी सरकार की कर्जमाफी - 1.5 लाख के कर्ज के बदले किया गया सिर्फ 1 पैसा माफ

साथ ही मंत्री ने यह भी दावा किया कि जीएसटी लागू होने से गोवा के पर्यटन पर कोई असर नहीं पड़ा है. उन्होंने कहा कि गोवा में आने वाले पर्यटकों की सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है.

गौरतलब रहें कि बीफ का सेवन सदियों पुरानी परम्परा है देश में बीफ बैन पर सख्ती से केंद द्वारा लागू करवाने के बाद राज्य में भी टूरिज्म सेक्टर की चिंताए है जिसपर टूरिज्म मिनिस्टर मनोहर अजगाँवकर ब्यान देकर टूरिस्ट को आश्वस्त किया है.

और पढ़े -   भाजपा महिला नेता की गुंडई, काम को लेकर की आलोचना तो युवक को सरेआम पीटा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE