bih

इस वर्ष बुराई पर अच्छाई की जीत के दो त्यौहार दशहरा और मुहर्रम एक साथ आये हैं. ऐसे में बिहार के बगहा मुस्लिमों ने अपने हिन्दू भाइयों को दशहरे पर कोई परेशानी का सामना न करना पड़े इसके लिए मुहर्रम के जलसे की तारीख आगे बड़ा दी.

दरअसल आईएएस और एसडीएम धर्मेंद्र प्रसाद ने दोनों त्यौहार को ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने बैठक बुलायी थी, जिसमे आईएएस और एसडीएम धर्मेंद्र प्रसाद की पहल पर मुस्लिम भाइयों ने दशहरे की वजह से ताजिया जुलुस को  एक दिन बाद निकलना स्वीकार कर लिया.

और पढ़े -   गुजरात: बीजेपी विधायक को मर्डर केस में आजीवन कारावास की सजा

बैठक में फैसला लिया गया कि 12 अक्टूबर को दुर्गापूजा और दशहरा मनाया जायेंगा. इसके बाद 13 तारीख को मोहर्रम का जुलुस निकलेगा.

इस बारें में आईएएस अधिकारी और बगहा के एसडीएम धर्मेन्द्र कुमार का ने कहा  कि छोटे से कस्बे से निकले बडे संदेश को राज्य ही नहीं बल्कि पूरे देश तक पहुंचाने की जरुरत है ताकि धर्म को आड़ में लेकर माहौल खराब करने वाले तत्वों को सबक मिल सके.

और पढ़े -   डीएम रिपोर्ट में खुलासा - ऑक्सीजन आपूर्ति में भ्रष्टाचार बना बच्चों की मौत का सबब

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE