मांडल डीएसपी चंचल मिश्रा पर जानलेवा हमले की आशंका देखते हुए पुलिस विभाग ने उनकी सुरक्षा बढ़ा दी है। डीएसपी मिश्रा पहले जोधपुर में तैनात थी, तब उन्होंने आसाराम की गिरफ्तारी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। तब से उन पर हमले की आशंका है। महीने भर से पुलिस ने उनकी सुरक्षा में तीन गनमैन नियुक्त कर दिए हैं।

आसाराम मामले में रविवार को एक नया खुलासा हुआ था। पिछले दिनों गुजरात क्राइम ब्रांच की गिरफ्त में आए शार्प शूटर कार्तिक हल्दर ने पूछताछ के दौरान बताया कि कैसे उसने आसाराम मामले की जांच करने वाली एसपी चंचल मिश्रा की हत्या की साजिश रची थी।

और पढ़े -   मध्यप्रदेश में दबंगों ने की दलित महिला की लाठियों से पीट-पीट कर हत्या

शार्प शूटर कार्तिक हल्दर ने पुलिस को दिए बयान में बताया है कि गवाहों की हत्या कराने और एके 47 खरीदने के लिए पूरे देश से आसाराम के सेवकों ने 25 लाख रुपए इकट्ठा किए थे। इस शार्प शूटर ने तीन अहम गवाहों की हत्या की बात मानी है. साथ ही चार अन्य गवाहों के मर्डर की कोशिश की बात भी बताई है।

और पढ़े -   नांदेड: हजारों दलितों और मुस्लिमों ने मिलकर उठाई गौरक्षकों पर प्रतिबंध की मांग

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE