asar

पूर्व डीआईजी डीजी वंजारा ने नाबालिग लड़की से बलात्कार के आरोप में जोधपुर जेल में बंद आशाराम को हिन्दू धर्म के संत स्वामी विवेकानंद से तुलना करते हुए कहा कि ‘आशाराम आज के विवेकानंद हैं’

मोडासा-नागरिक सम्मान समिति द्वारा वंजारा के सम्मान आयोजित के कार्यक्रम में वंजारा ने कहा कि चार साल तक जेल में रहने वाले आसाराम के नाम के आगे यदि मौलाना, मौलवी, बिशप, पादरी होता, तो उनकी धरपकड़ करने की किसी की हिम्मत ही नहीं होती.

वंजारा ने आगे कहा कि देश को तोड़ने के लिए इस समय कई षड्यंत्र रचे जा रहे हैं, हमें इससे सचेत रहना होगा. आसाराम का दर्जा स्वामी विवेकानंद जैसा होना चाहिए, जिन्होंने हिंदू संस्कृति को बचाने का काम किया.

उन्होंने आगे कहा कि देश में गंदी राजनीति चल रही है. इसी कारण आज आसाराम, प्रजा ठाकुर जैसे संत जेल में हैं. उन्होंने इस सम्मान को राष्ट्रभक्तों और राष्ट्रीय हित की विचारधारा का सम्मान बताया.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें