kashmir_security_forces_640x360_reuters_nocredit

बुरहान वानी की एनकाउंटर में मौत और उसके बाद शुरू हुई हिंसा के कारण घाटी में लगातार 39वें दिन कर्फ्यू जारी है. घाटी में सुरक्षाबलों की गोली से दो दिनों में 7 और लोगों की मौत हो गई है, जिसके बाद हिंसा में अब तक 65 लोग मारे जा चुके हैं.

प्रदर्शनकारियों पर सीआरपीएफ के जवानों को जवाबी कार्रवाई में सात लोगों की मौत हो गयी और पांच घायल हो गये हैं. जानकारी के मुताबिक, घाटी में हुई ताजा चार मौतों में दो बडगाम इलाके में हुई है. जबकि एक की अनंतनाग में मौत हुई. जबकि इससे पहले 15 अगस्त को भी बुलेट लगने से दो की मौत हुई थी.

और पढ़े -   कश्मीरी पंडित हमारे समाज का अभिन्न अंग, उन्हें वापस लौटना चाहिए: गिलानी

मृतकों की पहचान जावेद अहमद, मंजूर अहमद, मोहम्मद अशरफ और कौसर शेख के रूप में की गई. एक अधिकारी ने बताया कि पत्थरबाजी कर रहे युवाओं के समूह को तितर बितर करने के लिए सुरक्षा बलों को गोली चलानी पड़ी जिसके चलते यह घटना हुई.

मृतकों में से एक युवक अशफाक अहमद है, जो दो सप्ताह पहले बारामूला जिले के तंगमार्ग क्षेत्र में पत्थर फेंकने की घटना में घायल हो गया था. पुलिस का कहना है कि घाटी में सभी 10 जिला मुख्यालयों में कर्फ्यू और प्रतिबंध जारी रहेगा.

और पढ़े -   सप्ताह में एक बार स्कूलों और दफ्तरों में 'वंदे मातरम' बजना अनिवार्य: मद्रास हाईकोर्ट

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE