धार।कल वसंत पंचमी पर भोजशाला में शांतिपूर्ण निर्विघ्न पूजा और नमाज के बाद शनिवार को अगले दिन शहर में राष्ट्रीय स्‍वयं सेवक संघ कार्यालय के बाहर पथराव हुआ। घटना के बाद शहर में अफरा-तफरी का माहौल बन गया था।पथराव की घटनाओं के बाद कुछ वाहनों को भी आग के हवाले कर दिया गया। इसके बाद धारा 144 लगाने की बात सामने आई।वहीं कर्फ्यू को लेकर भी अटकलें चलती रही।

और पढ़े -   सप्ताह में एक बार स्कूलों और दफ्तरों में 'वंदे मातरम' बजना अनिवार्य: मद्रास हाईकोर्ट

जानकारी के अनुसार कल के आयोजन के बाद आज कुछ लोगों का गुस्सा फूटा । शहर के त्रिमूर्ति नगर स्थित संघ कार्यालय पर पथराव किया गया। खिड़की के कांच फोड़ दिए गए।

धार के पूर्व विधायक जसवंत राठौर के निवास काशी बाग कॉलोनी पर भी पथराव किया गया। बाद में शहर में पुलिस ने भीड़ को नियंत्रित किया। आला पुलिस अधिकारियों के अनुसार शहर के हालात फिलहाल काबू में हैं।

और पढ़े -   स्वच्छ भारत अभियान के लिए निकला फरमान - नहीं है पैसा तो पत्नी को बेचकर शौचालय बनाओं

पथराव के बाद कलेक्टर और एसपी राजेश हिंगणकर मौके पर पहुंचे। बताया जाता है कि अज्ञात बदमाशों ने ही यह तोडफोड की है। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है। अनहोनी की आशंका से बाजार बंद हैं।

आरएसएस कार्यालय पर पथराव करने वाले लोगों में शामिल अमरदीप सिंह नामक शख्स को धार पुलिस ने गिरफ्तार किया है जबकि बाकि लोगों की तलाश की जा रही है।

और पढ़े -   कश्मीरी हाजियों का पहला जत्था रवाना, महबूबा ने की राज्य के लिए दुआ की दरखास्त

पथराव और तोड़फोड़ के बाद हिन्दू संगठन के पदाधिकारी मीडिया से मुखातिब हुए।विजयसिंह ने कहा कि हमें शासन ने कहा था कि भीतर नमाज नहीं होगी। शासन ने कब नमाज करवाई हमें नहीं पता। हम 12.30 बजे भोजशाला के भीतर प्रवेश कर गए थे। तब से कुछ नहीं हुआ। (नईदुनिया)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE