देवास। – युवक की मौत के बाद खारी बावड़ी क्षेत्र में एहतियातन कर्फ्यू लगा दिया गया है।कल हुई पत्थरबाजी , उपद्रव और चाकूबाजी की घटना में घायल युवक नरेंद्र राजोरिया की इलाज के दौरान इंदौर में मौत हो गई। कोतवाली पुलिस ने नामजद 6 व अन्य आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी आशुतोष अवस्थी द्वारा दण्ड प्रक्रिया संहिता के तहत 16 जनवरी को प्रात: 10 बजे से खारी बावड़ी क्षेत्र के लिए प्रतिबंधात्मक आदेश तत्काल प्रभाव से लागू किये गये हैं। युवक की मौत की सूचना आने के बाद खारी बावड़ी , मालीपुरा, मोमनटोला पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। एहतियातन चप्पे चप्पे पर पुलिस बल तैनात किया गया है। हालांकि शहर में पूरी तरह शांति है। बाजार पूरी तरह खुले हुए हैं।
मृतक नरेंद्र का दाह संस्कार बेहरी गांव में होगा । वह आईआईटीएस कॉलेज में एमबीए का छात्र था । खारी बावड़ी क्षेत्र में एहतियातन कर्फ्यू लगाया गया है। कलेक्टर ने इसकी पुष्टि की है। वहीं कल हुई अलग -अलग घटनाओं में 5 प्रकरण दर्ज हुए किए गए हैं।
शुक्रवार को तनाव के चलते नरेंद्र राजोरिया नामक व्यक्ति घबराकर अपने किसी परिचित के यहां से घर की ओर जा रहा था, तभी मुक्ति मार्ग क्षेत्र पर इसे 15 से 20 अज्ञात लोगों द्वारा घेर कर हथियारों से उस पर हमला कर दिया।
घायल अवस्था में उसे पुलिस ने जिला चिकित्सालय भेजा। स्थिति नाजुक होने पर उसे इंदौर मुंबई हॉस्पिटल रेफर कर दिया था। जहां देर रात 2:00 बजे डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
नरेन्द्र राजोरीया पूर्व में नाथ मोहल्ले में रहता था, अभी लायन होटल के पीछे पुलिस ग्राउंड से लगे आदर्श नगर में रहता है। नरेंद्र का अंतिम संस्कार उसके मामा के यहा बेहरी में होगा। साभार: नईदुनिया
और पढ़े -   पीएम मोदी का वाराणसी दौरा, योगी सरकार का हर मदरसे को 25-25 महिलाओं को भेजने का आदेश

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE