देवास। दिनभर की शांति के बाद शुक्रवार रात को शहर में तनाव की स्थिति बनी। मामूली विवाद के बाद उड़ी अफवाह ने समूचे शहर को अपनी गिरफ्त में लिया और चंद उन्मादी लोगों ने शहर की फिजा बिगाड़ने की कोशिश की। उनके मंसूबे इतने खौफनाक थे कि जब कलेक्टर सहित पुलिस बल स्थिति को नियंत्रित करने पहुंचा तो उन पर भी पथराव किया। बाद में पुलिस ने सर्चिंग अभियान चलाया और धर्मस्थल व मकान से पांच पेट्रोल बम बरामद कर करीब आठ-दस युवकों को हिरासत में लिया।

देर रात तक धरपकड़ जारी थी। जानकारी के मुताबिक शुक्रवार देर शाम को शहर के शुक्रवारिया हाट में दो युवकों के बीच विवाद हुआ। पुरानी रंजिश के कारण हुए इस विवाद में तलवार चली और दो युवक घायल हुएा। उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया। एक को इंदौर रैफर किया। घटना के बाद सांप्रदायिक विवाद की अफवाह फैली। कुछ ही देर में पूरा शहर बंद हो गया। लोग जरुरी काम निपटाकर घरों की ओर रवाना हुए। पुलिस ने मोर्चा संभाला। पूरा शहर पुलिस छावनी में तब्दील हो गया।

पांच पेट्रोल बम बरामद

घटना के बाद खारीबावड़ी, मालीपुरा आदि इलाकों में हालात बिगड़े। यहां कुछ लोगों ने जमकर पथराव किया। गलियां ईंट, पत्थरों से पट गईं। पुलिस ने इलाके में सर्चिंग शुरू की। एक धर्मस्थल से तीन व पास के घर से दो पेट्रोल बम बरामद किए। यहां से कई युवकों को हिरासत में लिया। आसपास खड़े कुछ संदिग्धों को भी उठाया। कलेक्टर आशुतोष अवस्थी, एसपी शशिकांत शुक्ला, एडीएम कैलाश बुंदेला सहित अफसर शहर में निकले व हालात का जायजा लिया। हालांकि सिर्फ खारीबावड़ी व आसपास के क्षेत्र में ही तनाव हुआ था, शेष जगह कोई अप्रिय घटना नहीं घटी। एहतियातन पुलिस बल तैनात किया गया।

अफवाह के कारण बिगड़ी स्थिति

अफवाह के कारण शहर की स्थिति बिगड़ी। वॉट्सएप पर चले मैसेज ने लोगों को गफलत में डाल दिया। जो जहां था वहीं रूक गया। इससे पहले की अफवाहों पर अंकुश लग पाता, स्थिति बिगड़ने लगी। हालात ऐसे हो गए कि जो बाजार सुबह से लेकर शाम तक लोगों से भरा पड़ा था वह रात आठ बजे के बाद सुनसान हो गया। बस स्टैंड के आसपास भी पुलिस ने लोगों को रोक दिया। हालांकि शहर के अन्य इलाकों में कुछ दुकानें खुली रही। वहां किसी तरह का फर्क नहीं पड़ा। हालांकि पुलिस द्वारा एक्शन लेने के बाद माहौल सुधरा और बाजार में भी कुछ दुकानें खुलती नजर आईं।

कलेक्टर व अमले पर भी किया पथराव

घटना के बाद पुलिस-प्रशासन ने मोर्चा संभाला। लाव-लश्कर व पूरी तैयारी के साथ पुलिस जवान सड़कों पर उतरे व स्थिति को नियंत्रित किया। हालांकि अराजक तत्वों के मंसूबे इतने खौफनाक थे कि जब कलेक्टर श्री अवस्थी व अन्य अधिकारी और पुलिस जवान खारीबावड़ी क्षेत्र में घूम रहे थे तो उन पर भी पत्थर फेंके गए। इसके बाद पुलिस हरकत में आई और सर्चिंग अभियान तेज किया। लोगों द्वारा किए गए पथराव को ट्रैक्टर-ट्रॉली में भरकर ले जाया गया।

व्यक्तिगत विवाद था

जो विवाद हुआ वह व्यक्तिगत था। कोर्ट में केस भी चला, जिसमें राजीनामे की बात सामने आई। कालूराम नामक व्यक्ति पालदानाका इंदौर का निवासी है। अपनी पत्नी के साथ वह शुक्रवार को देवास आया था। वर्ग विशेष के दो युवकों ने पुरानी रंजिश के चलते उस पर तलवार से हमला किया। इससे उसे गंभीर चोट आई। हमला करने वाला एक युवक भी घायल हुआ। दोनों को जिला अस्पताल ले गए जहां से कालूराम को इंदौर रैफर किया। उसकी हालत ठीक है। व्यक्तिगत विवाद को अफवाहों ने तूल दिया और स्थिति बिगड़ी।

स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में

कलेक्टर आशुतोष अवस्थी ने बताया कि स्थिति नियंत्रण में है। घबराने जैसी कोई बात नहीं है। खारीबावड़ी व आसपास के इलाकों में पथराव हुआ था। किसी को चोट नहीं आई। यहां एक धर्मस्थल से तीन व पास के घर से दो पेट्रोल बम बरामद किए। धर्मस्थल व आसपास के इलाके से कुछ युवकों को हिरासत में लिया। संदिग्धों की धरपकड़ जारी है। सिर्फ खारीबवाड़ी व एक दो क्षेत्रों में स्थिति बिगड़ी थी, जिसे नियंत्रित कर लिया है। व्यक्तिगत विवाद को अफवाहों के कारण तूल दिया गया। लोगों से अपील है कि अफवाहों पर ध्यान न दें। शहर की शांति भंग करने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी।

..तो वॉट्सएप के ग्रुप एडमिन पर होगी कार्रवाई

वॉट्सएप के कारण बिगड़ी स्थिति के बाद अफसर सख्त हुए हैं। कलेक्टर श्री अवस्थी ने वॉट्सएप पर अफवाह फैलाने वालों पर कार्रवाई के संकेत दिए हैं। वॉट्सएप पर निगरानी रखी जा रही है। खुद कलेक्टर ने कुछ वॉट्सएप ग्रुप में मैसेज कर कहा है कि शहर में धारा 144 लगी है। अगर किसी वॉट्सएप ग्रुप पर गॉसिप या अफवाह फैलाई गई तो संबंधित ग्रुप के एडमिन पर कार्रवाई की जाएगी। साभार: नईदुनिया


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE