tay

रायपुर: भारतीय जनसंघ के संस्थापक सदस्य पंडित दीनदयाल उपाध्याय के देशहित में योगदान देने के बारे में IAS अधिकारी को सवाल करना भारी पड़ गया. इस मामलें को लेकर IAS अधिकारी को तबादले के साथ कारण बताओं नोटिस भी जारी किया गया.

दरअसल IAS शिव अनंत तायल मुख्य कार्यपालक अधिकारी, जिला पंचायत कांकेर के पद पर कार्यरत थे. उन्होंने शुक्रवार को फेसबुक पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय के योगदान को लेकर सवाल किया. जिसके बाद भाजपा के नेता भड़क उठे. और उन पर कार्रवाई की मांग कर दी.

और पढ़े -   कुरैशी समाज की योगी सरकार को चेतावनी - स्लाटर हाउस चालू कराएं वरना अब टूटेंगे कानून

shiv

भाजपा के नेताओं की मांग पर रमन सरकार ने तायल का तबादला कर  मंत्रालय में पदस्थ कर दिया. साथ ही राज्य सरकार  ने तायल को कारण बताओ नोटिस जारी कर रही है. जवाब मिलने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी.

हालांकि उन्होंने अपने पोस्ट को फेसबुक से हटा दी थी और इसक्र लिए खेद जताया था. जिसमे उन्होंने कहा था कि मेरा मकसद दीनदयाल उपाध्याय के बारें में जानना था. न कि किसी की भावनाओं को आहत करना.

और पढ़े -   असम: आतंकियों को आर्थिक मदद देने पर बीजेपी नेता सहित 2 को उम्रकैद की सज़ा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE