बजरंग दल के उग्र कार्यकर्ताओं ने बोकारो के बर्मो पुलिस स्टेशन पर हमला कर दिया। पुलिस ने जब उन्हें रोकने की कोशिश की तो हिंसक हो चुके कार्यकर्ताओं ने वहां मौजूद पुलिस की गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। अभी तक पुलिस हमलावरों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है।

पुलिस के मुताबिक 16 मार्च को एक मुस्लिम लड़के ने फेसबुक पर हिंदू देवी-देवताओं के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट शेयर की थी। शिकायत मिलने के बाद पुलिस उसे पकड़ लाई थी। बावजूद इसके बजरंग दल के कार्यकर्ता नहीं माने। वो चाहते थे कि मुस्लिम लड़के को पुलिस के कब्ज़े से निकालकर सबक सिखाया जाए। पुलिस ने जब इसका विरोध किया तो बजरंग दल उसी पर हमलावर हो गया।

और पढ़े -   चोटी कटने के बाद अब कटी दाढ़ी, पुलिस ने बताया: जादू-टोने का मामला

पुलिस ने बताया कि बजरंग दल समेत स्थानीय अतिवादी हिंदू संगठनों ने पुलिस स्टेशन के अलावा मुसलमानों की दुकानों को भी निशाना बनाया। मुसलमानों की करीब आधा दर्जन दुकानें फूंक दी गईं।    द इंडियन एक्प्रेस के मुताबिक पुलिस ने कम से कम 50 मुलज़िमों के ख़िलाफ़ दंगा, आगजनी, हिंसा और आपराधिक साजिश रचने के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। इनमें मुसलमान भी शामिल हैं।

और पढ़े -   AMU के बाब-ए-सैयद पर वंदे मातरम् के साथ दक्षिणपंथियों ने की गोलीबारी

एफआईआर में बजरंग दल के कार्यकर्ता रुद्र सिंह, हिंदू जागरण मंच के स्थानीय नेता रामू बिगर और वीएचपी नेता पकंज पांडे को मुलज़िम बनाया है। फिलहाल तीनों आरोपी फरार चल रहे हैं। (Live India)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE