yu

इंसानियत को शर्मसार करते हुए अब उत्तर प्रदेश के लखीमपुर शहर में एक बाप को अपनी बेटी के शव को घर ले जाने के लिए मजबूर होना पड़ा हैं.

बुखार से तपती बेटी के अस्पताल में दम तोड़ देने के बाद लाचार पिता जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक के पास एम्बुलेंस के लिए पहुंचा तो उन्होंने एबुलेंस का इंतजाम करने से हाथ ऊँचे कर दिये.  जिसके बाद लाचार बाप ने बेटी की लाश सड़क पर रख भीख मांगना शुरू कर दिया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार लखीमपुर से 45 किलोमीटर दूर मितौली से गुरुवार को रमेश अपनी बेटी अंजली को तेज बुखार के चलते 108 एम्बुलेंस से जिला अस्पताल लेकर आया था. सीएचसी पर डॉक्टरों ने हालत गम्भीर देख उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया. लेकिन जिला अस्पताल में अंजली की सांसे थम चुकी थी.

गरीब बाप अस्पताल कर्मचारियों से मिन्नतें करता रहा लेकिन किसी ने उसकी मदद नहीं की जिसके बाद आस-पास के दुकानदारों के सहयोग और भीख में मिले पैसों से रमेश शव को किराये के वाहन से अपने गाँव ले गया.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें