उत्तरप्रदेश में एक के बाद एक दलित अत्याचार के मामले सामने आ रहे है. ताजा मामला आगरा का है. जहाँ दबंगों ने एक दलित युवक की पीट-पीट कर हत्या कर दी.

आगरा के थाना सिकंदरा के जऊपुरा गांवमें बुधवार रात करीब 9:30 बजे रास्ते से गुजर रहे नवाब सिंह की गाँव के ही दबंगों ने लाठी, डंडे और सरियों से पीट-पीट कर हत्या कर दी. इस दौरान पड़ोस के दलितों को घरों में बंद कर दिया गया. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई.

और पढ़े -   राष्ट्रगान ना गाने पर योगी सरकार करेगी मदरसों पर एनएसए के तहत कार्रवाई

मौके पर पहुंची पुलिस को नवाब सिंह व राकेश गंभीर हालत में मिले. घायलों को निजी अस्पताल में ले जाया गया. डॉक्टरों ने नवाब सिंह को मृत घोषित कर दिया.

मृतक के परिजनों ने पुलिस ने तहरीर के आधार पर अशोक यादव लक्ष्मण रज्जू चंदू लाल सिंह सत्यवीर रवि भोला सहित लगभग डेढ़ दर्जन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर किया. मृतक के परिजनों का कहना है कि आरोपी पहले भी चार बार हमला कर चुके हैं सन 2001, 2004, 2010, 2012 में इनके खिलाफ थाना सिकंदरा में कई मुकदमे दर्ज हैं. लेकिन पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही.

और पढ़े -   विदेश भागने की अफवाह पर डॉ कफील बोले - मुझे बलि का बकरा बनाया जा रहा, मेरा कोई कसूर नहीं

परिजनों का कहना है कि 5 अगस्त को आरोपियों के खिलाफ नवाब सिंह व राकेश को एससी-एसटी के मुकदमे में गवाही देनी थी उससे पहले ही दबंगों ने दलित की पीट पीट कर हत्या कर दी. इस मामले में गांव में जातीय संघर्ष की आशंका को देखते हुए पीएसी बल तैनात करा दिया गया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE