राहुल गांधी ने कहा कि यूनिवर्सिटी ने यहां पर अपनी ताकत का इस्‍तेमाल दलित छात्रों को दबाने के लिए किया।

दलित छात्र की आत्‍महत्‍या मामले में कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को हैदराबाद यूनिवर्सिटी में छात्रों से मुलाकात की और उनसे बातचीत की। उन्‍होंने रोहित वेमुला की आत्‍महत्‍या के लिए वाइस चांसलर, मंत्री और संस्‍थान को जिम्‍मेदार ठहराया। उन्‍होंने कहा कि, रोहित यहां पर देश की हालत सुधारने और खुद को अभिव्‍य‍क्‍त करने आया था। उसे इतना दर्द दिया गया कि उसने अपनी जान दे दी। यूनिवर्सिटी ने यहां पर अपनी ताकत का इस्‍तेमाल दलित छात्रों को दबाने के लिए किया।

दिल्‍ली में बैठे मंत्री ने निष्‍पक्ष काम नहीं किया। वाइस चांसलर को रोहित के परिवार से मिलने का अधिकार नहीं। यह संस्‍थान, देश और प्रत्‍येक छात्र का अपमान हैं। राहुल गांधी ने कहा कि, ‘यूनिवर्सिटी का मकसद होता है बोलने की आजादी देना। देश के नौजवान यहां आ सके और अपने दिल की बात रख सके। उन्‍हें ज्ञान मिल सके। लेकिन जब नौजवानों पर कोई बात थोपी जाए और कहा जाए कि केवल यही स्‍वीकार किया जाएगा तो बड़ा दुख होता है।

संस्‍थान ने मुक्‍त भाव से काम करने के बजाय अपनी ताकत से उन्‍हें कुचल दिया। वाइ स चांसलर और मंत्री ने आजादी से काम नहीं किया। निश्‍चित रूप से रोहित ने आत्‍महत्‍या की लेकिन वाइस चांसलर, मंत्री और संस्‍थान ने ऐसी परिस्थितियां बनाई।’ साभार: जनसत्ता


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE