हैदराबाद। हैदराबाद सेंट्रल यूनवर्सिटी में एक दलित छात्र ने रविवार रात को खुदकुशी कर ली। खुदकुशी करने वाला छात्र रोहित उन 5 दलित छात्रों में से एक है, जिन्हें उनके हॉस्टल से सस्पेंड किया गया था।

रोहित गुंटूर जिले का रहने वाला था और सोशियोलॉजी में पीएचडी कर रहा था। रोहित के खुदकुशी किए जाने के बाद सोमवार को कॉलेज छात्रों ने हैदराबाद विश्वविद्यालय के परिसर में विरोध प्रदर्शन किया। इस बीच खबर है कि शिक्षा मंत्री स्मृति ईरानी ने हैदराबाद यूनिवर्सिटी में टीम भेजी है। इस मामले में केंद्र में श्रम राज्य मंत्री बंडारू दत्तात्रेय पर केस दर्ज कर लिया गया है। उनके अलावा वीसी अप्पा राव के खिलाफ भी केस दर्ज कर लिया गया है।

रोहित अंबेडकर स्टूडेंट यूनियन से जुड़ा था। उसे 12 दिन पहले हॉस्टल से सस्पेंड कर दिया गया था। इन छात्रों के समर्थन में 10 संगठनों ने रविवार को रिले भूख हड़ताल की थी और इनका सस्पेंशन वापस लेने की मांग कर रहे थे। इन छात्र संगठनों का कहना है ये छात्र सामाजिक बहिष्कार के शिकार हैं। तेलंगाना के सभी छात्र संगठनों ने रोहित की आत्महत्या के बाद सोमवार को बंद बुलाया है।

आत्महत्या से पहले छोड़ा पत्र

आत्महत्या करने से पहले रोहित ने एक पत्र भी छोड़ा है। उसने लिखा है- आप जब ये पत्र पढ़ रहे होंगे तब मैं नहीं होऊंगा। मुझ पर नाराज मत होना। मैं जानता हूं कि आप में से कई लोगों को मेरी परवाह थी, आप लोग मुझसे प्यार करते थे और आपने मेरा बहुत ख्याल भी रखा। मुझे किसी से शिकायत नहीं है। मुझे हमेशा से खुद से ही समस्या रही है। मैं अपनी आत्मा और अपनी देह के बीच की खाई को बढ़ता हुआ महसूस करता रहा हूं। मैं एक दानव बन गया हूं। मैं लेखक बनना चाहता था। विज्ञान पर लिखने वाला, कार्ल सगान की तरह, लेकिन अंत में मैं सिर्फ ये पत्र लिख पा रहा हूं।

आखिरी में जय भीम लिखा है। साथ ही लिखा है – मैं औपचारिकताएं लिखना भूल गया। खुद को मारने के मेरे इस कृत्य के लिए कोई जिम्मेदार नहीं है। किसी ने मुझे ऐसा करने के लिए भड़काया नहीं, न तो अपने कृत्य से और न ही अपने शब्दों से। ये मेरा फैसला है और मैं इसके लिए जिम्मेदार हूं। मेरे जाने के बाद मेरे दोस्तों और दुश्मनों को परेशान न किया जाए। साभार: नईदुनिया


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें