भवानीमंडी: राजस्थान पुलिस का आदर्श वाक्य ‘अपराधियों में डर तथा आमजन में विश्वास’ उल्टा प्रतीत होता दिखाई दे रहा हैं. ऐसा ही एक नजारा राजस्थान की मुख्यमंत्री के गृहनगर झालावाड जिले के भवानीमंडी पुलिस स्टेशन पर दिखाई दिया. कई दिनों से शहर भर में चोरी की घटनाये हो रही थी. जिसकी शिकायत लगातार पुलिस को दी जा रही थी. पुलिस प्रशासन द्वारा जनता को चोरो पर कार्यवाही के आश्वासन दिए गए थे.

45

पुलिस प्रशासन द्वारा दिए गए ये आश्वासन आज भी खोकले ही साबित हुवे हैं. शहर की ग़रीब नवाज कॉलोनी में बीती रात दो मकानों के ताले टूट गए. वार्ड पार्षद राजिक अंसारी के अनुसार कॉलोनी निवासी घांसी शाह तथा मुन्ना भाई के दामाद शब्बीर भाई के यहाँ चोरी की वारदात हुई हैं. घांसी शाह बीती रात अपनी पत्नी का इलाज कराने हेतु अस्पताल में थे वही शब्बीर भाई का परिवार कोटा गया हुआ था.

वार्ड पार्षद राजिक अंसारी ने बताया कि शब्बीर भाई की के मकान से चोरो ने घरेलु सामान तथा घांसी शाह के मकान से 15000 रुपये नगद और कूलर सहित उपकरण ले गए. घांसी शाह ने ये राशि मकान किराया चुकाने के लिए एकत्रित की थी.

46

राजिक अंसारी ने पुलिस प्रशासन की प्रणाली पर सवाल उठाते हुवे कहा कि ” आज तक हमारी कॉलोनी में चोरी हुई हैं लेकिन पुलिस के निकम्मेपन के कारण दो गरीब परिवारों आर्थिक हानि का सामना करना पड़ा.”

स्थानीय निवासी नियामत अली ने कहा कि ”पुलिस गलियों में गश्त करने के बजाय सडको पर चक्कर काट रही हैं”

पुलिस प्रशासन द्वारा इस बार भी चोरो को दस दिवस में पकड़ने का आश्वासन दिया हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें