jha

झारखंड में आदिवासियों के धर्मांतरण के अधिकारों की हिमायत करना वरिष्ठ आईएएस अधिकारी वंदना ददेल को भारी पड़ गया हैं. राज्य सरकार ने वंदना ददेल को कारण बताओ नोटिस जारी किया हैं जिसके बाद वंदना ददेल ने 15 दिनों की छुट्टी पर जाने का फैसला किया हैं.

दरअसल वंदना ददेल ने मुख्यमंत्री रघुबार दास के उस बयान पर सवाल उठाया था जिसमे उन्होंने सार्वजनिक मंच से मुख्यमंत्री ने जनजातीय समुदाय के धर्म परिवर्तन पर रोक की बात कही थी.

वंदना ददेल ने सवाल उठाते हुए फेसबुक पर लिखा था कि ‘जब एक सरकारी कार्यक्रम के दौरान आदिवासियों के धर्म के बारे में सवाल किया जाता है तो दिमाग में एक सवाल उठता है -क्या जनजातीय समुदाय के लोगों को अपनी पसंद के अनुसार किसी धर्म को चुनने का अधिकार नहीं है?

उन्होंने आगे कहा, अचानक क्यों लोगों ने जनजातीय समुदाय के लोगों के धर्म के बारे में सोचना शुरू कर दिया है? सच्चाई यह है कि समाज कुपोषण, अशिक्षा और बेरोजगारी जैसे अन्य बहुत सारी गंभीर समस्याओं का सामना कर रहा है.”

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें