आईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ राजधानी लखनऊ में देशद्रोह का परिवाद दायर किया गया है. सीजेएम कोर्ट में ओवैसी के खिलाफ परिवाद दायर हुआ है. बता दें ओवैसी ने कहा था कि वह भारत माता की जय नहीं बोलेंगे.

ओवैसी ने कहा कि, ‘चाहे मेरे गले पर चाकू लगा दो पर मैं भारत माता की जय नहीं बोलूंगा.’ उन्होंने कहा कि संघ नेताओं के कहने पर वो भारत माता की जय के नारे नहीं लगाएंगे. आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बयान के विरोध में ओवैसी ने यह बात कही थी.

असदुद्दीन ओवैसी के विरुद्ध देशद्रोह का परिवाद दायरभागवत ने पिछले दिनों सुझाव दिया कि नई पीढ़ी को भारत माता की जय बोलना सीखाना होगा.

ओवैसी ने महाराष्ट्र के लातूर जिले के उडगीर में आयोजित एक सभा में यह बयान दिया. जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा कि वे भारत माता की जय का जयकारा नहीं लगाता. ‘भागवत साहब, आप क्या करने जा रहे हैं। आप यदि मेरी गर्दन पर छूरी रख दें तो भी मैं यह नारा नहीं लगाऊंगा.’

ओवैसी ने सभा में मौजूद लोगों से कहा कि ‘मैं भारत में रहूंगा पर भारत माता की जय नहीं बोलूंगा। क्योंकि यह हमारे संविधान में कहीं नहीं लिखा है कि भारत माता की जय बोलना जरूरी है.’ (pradesh18)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें