उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा कैराना के कथित पलायन की जांच के लिए नियुक्त पांच संतों की कमेटी ने अपनी रिपोर्ट यूपी सरकार को सोंप दी हैं. रिपोर्ट में कहा गया हैं कि उत्तरप्रदेश को सांप्रदायिक आग में झोकने की साजिश रची जा रही हैं.

20 पन्नों की रिपोर्ट में संतों ने कहा हुकुम सिंह जब कैबिनेट मंत्री थे, उस वक्त 121 परिवारों ने कैराना से पलायन किया था. सके अलावा कुल 150  परिवारों ने पूर्व डीजीपी और बीजेपी जांच कमेटी के सदस्य बृजलाल के कार्यकाल के दौरान पलायन किया था.

और पढ़े -   लालू की सांसद बेटी मीसा भारती के सीए को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी ने किया गिरफ्तार

रिपोर्ट में पिछले दिनों हुई गोलीबारी को लेकर कहा गया कि गोलीबारी करने वाले अपराधी हिन्दू हैं तथा एक हिन्दू नेता का हाथ इन अपराधियों के सिर पर हैं. साथ ही बीजेपी और सपा के कुछ नेता भी शामिल हैं. रिपोर्ट में हिन्दू-मुस्लिम के बीच तनाव से भी इंकार किया गया हैं.

आचार्य प्रमोद कृषणनन, स्वामी कल्याणदेव, स्वामी चिन्मयानंद, स्वामी चक्रपाणि और स्वामी देवेंद्रानंद की इस रिपोर्ट में यूपी सरकार को तत्काल अमल में लाने के लिए 10 सुझाव भी दिए हैं.

और पढ़े -   मोदी सरकार ने नोटबंदी के दौरान छिना 1.52 लाख अस्थाई कर्मचारियों का रोजगार

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE