alex

छत्तीसगढ़ के आईएएस अफसर एलेक्स पॉल मेनन अपनी फेसबुक पोस्ट के कारण मुश्किलों में आ गए हैं. मेनन ने 18 जून को दलित और मुस्लिमों की फांसी पर सवाल उठाते हुए अपने फेसबुक वॉल पर कहा था कि ‘कोर्ट द्वारा फांसी की सजा 94 फीसदी दलितों-मुस्लिमों को दिया जाना क्या न्यायिक व्यवस्था का पक्षपातपूर्ण रवैया नहीं दिखाता?’

छत्तीसगढ़ सरकार ने आईएएस एलेक्स पॉल मेनन की फेसबुक पोस्ट को अनुशासनहीनता मानते हुए नोटिस थमा दिया हैं. इस पर आईएएस से एक महीने के अंदर जवाब मांगा गया है. इस समय वे सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के विद्युत सचिव और चिप्स के सीईओ हैं.

और पढ़े -   जेवर गैंगरेप मामले में चार लोगों की गिरफ्तारी, कांग्रेस ने कहा - योगी सरकार के माथे पर कलंक

इस बारें में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि, ”नोटिस देना प्रक्रिया का हिस्सा है लेकिन इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि कहां, कौन सी बोली जाए.”


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE