मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री चौधरी वीरेंद्र सिंह के पैतृक गांव में दलितों के साथ जातिगत भेदभाव किया जा रहा है. जिसको लेकर मोदी सरकार की कड़ी निंदा हो रही है.

हरियाणा  के जींद में स्थित डूमरखा खुर्द चौधरी वीरेंद्र सिंह का पैतृक गांव है. यहाँ पर स्थित मंदिर में हवन यज्ञ शुरू किया गया. जिसके लिए दलितों सहित पुरे क्षेत्र से चंदा लिया गया. लेकिन हवन शुरू होने से पहले पंडित ने फरमान जारी कर दलितों को हवन से दूर रखने की बात कही.

और पढ़े -   दूसरी शादी के लिए धर्मपरिवर्तन को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ग़ैरक़ानूनी करार दिया

पंडित ने कहा कि मंदिर में होने वाले हवन में दलितों का प्रवेश नहीं होना चाहिए. हवन में अगर दलितों का प्रवेश हुआ तो विघ्न पड़ जाएगा और गांव में शांति नहीं रहेगी.

दलितों ने पुलिस में इसकी शिकायत देकर फरमान सुनाने वाले पंडित के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. लेकिन पुलिस का कहना है कि माँमले में दोनों पक्षों में समझौता हो गया है. लेकिन दलित समाज का कहना है कि पुलिस ने दबाव डालकर समझौता कराया है.

और पढ़े -   पंचायत चुनाव में एक सीट भी नहीं बचा पाई भाजपा, कांग्रेस को मिली बड़ी जीत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE