sitapur - naked -women case

सीतापुर.इंसानियत को शर्मशार कर देने वाली एक घटना ने सीतापुर में खाकी को एक बार फिर कटघरे में ला खड़ा किया है। दरअसल यहां के पिसावां इलाके में एक महिला को कुछ दबंग पहले तो एक खेत में नग्न हालत में दौड़ाते हैं और फिर उसके द्वारा शिकायत करने पर उसकी पिटाई भी करते हैं। वहीं जनता के रक्षक दबंगों के इस कृत्य पर ख़ामोशी की चादर ओढ़ लेते हैं। जब आला अधिकारीयों के कान में ये बात पहुंचती है तो जिम्मेदार रक्षकों पर निलंबन की कार्यवाही होती है।

पीड़िता रीना पत्नी सुरेश (काल्पनिक नाम) निवासी दौलतियापुर थाना पिसांवा ने बीती 26 मार्च को क्षेत्र के सीओ को प्रार्थना पत्र देकर यह आरोप लगाया की गांव के संजय सिंह , शैलेन्द्र सिंह, और पंकज सिंह द्वारा जबरन मेरी बोई फसल को काट लिया गया और 23 मार्च को मेरे साथ मारपीट करके खेत में नंगा करके नग्न अवस्था में दौड़ाया गया।

वहीं इस शिकायत पर सीओ ने उक्त प्रार्थना पत्र पर एसओ पिसांवा अजय कुमार सिंह को कार्यवाही करके के लिए आदेश दिया और शिकायत प्रकोष्ठ को भी भी भेज दिया। जिस पर शिकायत प्रकोष्ठ के क्रमांक 49 के माध्यम से 26 मार्च को दबंगों पर कार्यवाही करने के लिए भी एसओ पिसांवा को भेजा गया।

बावजूद इसके एसओ पिसांवा द्वारा कोई मुकदमा दबंगों पर नहीं दर्ज किया गया। वहीँ एसपी और एएसपी द्वारा जब इस गंभीर मामले में जांच के लिए पिसांवा की पीड़ित महिला से मिलने गए तो महिला ने उस वक़्त भी बीते 15 दिनों में आरोपियों द्वारा उससे दो बार मारपीट की बात कही गयी।

जब इस मामले में पुलिस के आलाअफसरों द्वारा एसओ पिसांवा से पूछा गया तो एसओ ने ऐसे किसी भी मामले की जानकारी होने से मना कर दिया। जिसपर नाराज पुलिस अधीक्षक ने तत्काल प्रभाव से एसओ पिसांवा को लाइन हाज़िर कर दिया और इस मामले में 58/2016 धारा 447/354 बी 323, 504 और एससी एसटी एक्ट के तहत दबंगों पर मुकदमा भी दर्ज किया गया।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE