pravin

कर्नाटक के उडुपी ज़िले में गौरक्षा के नाम पर हत्या का मामला सामने आया हैं. इस बार गौरक्षकों का निशाना बीजेपी कार्यकर्ता बना हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार दक्षिण कर्नाटक के उडुपी ज़िले के हेबरी पुलिस लिमिट में ब्रह्मावारा नाम की जगह पर बुधवार रात तकरीबन 10.30 बजे जैसे ही तीन बछड़ों को लेकर एक टैम्पो पहुंचा तो अचानक 18 युवकों ने उसे घेर लिया और फिर ड्राइवर और उसके साथ बैठे युवकों की डंडों से जमकर पिटाई की और उन्हें वहीं कराहता छोड़ भाग निकले.

और पढ़े -   प्रशासन का दलितों को आदेश - सीएम योगी से मिलना है तो नहाकर, पाउडर-सेंट लगाकर आओ

इस दौरान किसी ने पुलिस को सुचना दे दी जिसके बाद पुलिस ने दोनों को अस्पताल पहुंचाया, जिसमे से एक शख्स की मौत हो गई और दुसरे की हालत गंभीर हैं. मरने वालें शख्स की शिनाख्त 29 साल के प्रवीण पुजारी के तौर पर हुई है. मृतक प्रवीण बीजेपी का कार्यकर्ता था.

उडुपी ज़िले के पुलिस प्रमुख बालकृष्ण ने जानकारी दी कि हमलावर एक हिंदू संगठन से जुड़े हैं. इस सिलसिले में 18 आरोपियों को आईपीसी की धारा 302 के तहत गिरफ्तार कर लिया गया है.

और पढ़े -   जान की परवाह किए बिना मुस्लिम युवक ने क्रैश लैंडिंग के दौरान की थी फडणवीस की मदद

ये घटना तब सामने आई है जब कुछ दिन पहले ही केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सभी राज्यों से कहा है कि वे गोरक्षा के नाम पर कानून अपने हाथ में लेने वालों पर सख्त कार्रवाई करें। इस एडवाइजरी के कुछ दिन पहले खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि 80 फीसदी गोरक्षक गोरखधंधे में लिप्त हैं और उन्हें इनकी करतूतें देखकर गुस्सा आता है।

और पढ़े -   योगी के मंत्री ने किया दो करोड़ का जमीन घोटाला, मोहसिन रजा ने बैच डाली वक्फ की जमीन

उधर कर्नाटक के गृहमंत्री जी परमेश्वरा ने कहा है कि प्रथम दृश्यट्या ये मामला गायों के बिजनेस को लेकर विवाद से जुड़ा लगता है। पुलिस अपना काम कर रही है और इसके पीछे जो भी कारण होगा हम पता लगा लेंगे।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE