rj go

पिंक सिटी जयपुर में गौरक्षकों और संत समाज ने गाय के नाम पर राजनीति करने को लेकर बीजेपी को निशाने पर लिया हैं. संतो ने बीजेपी को चुनाव में सबक सिखाने की चेतावनी देते हुए कहा कि गाय के नाम पर वोट लेने की बीजेपी की राजनीति अब नहीं करने दी जाएगी.

संतों और गोरक्षकों ने वसुंधरा सरकार पर पैदल मार्च की अनुमति नहीं देने और संतों को डराने-धमकाने का आरोप लगाया. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सबने आड़े हाथों लेते हुए आगे कहा कि गाय के नाम पर जीतकर गोशाला की जगह शौचालय-शौचालय चिल्लाते रहते हैं.

पीएम मोदी के मंहगे कोट का मजाक बनाते हुए संत गोपाल दास ने कहा कि मोदी जी तीन लाख का चश्मा और 11 लाख का सूट पहनकर हर जगह हरा-हरा देख रहे हैं. इसलिए हरे चारे के बिना मरती हुई गायें नहीं दिख रही हैं. लोगों ने वोट दिया था कि मोदी जी को लाओ और गाय बचाओ लेकिन वो तो गाय मारने वालों को बचाने में लग गए हैं. जनता इसे देख रही है. जनता चुनाव में परिवर्तन करेगी. उनको समझना चाहिए कि सत्ता स्थाई नहीं होती है.

पीएम मोदी के फर्जी गौरक्षक वाले बयान पर पूर्व बीजेपी नेता गोविंदाचार्य ने कहा कि मोदी को ऐसा नहीं कहना चाहिए था. इससे लाखों गो भक्तों को ठेस पहुंची है. इस मामले पर बीजेपी नेता गोविंदाचार्य पूरी तरह से संत समाज के साथ थे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें