ईद उल अजहा के मौके पर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने के उद्देश्य से एक मंदिर के बाहर मीट के टुकड़े फेंक कर भाग रहे बीजेपी नेता के पुत्र को लोगों ने पकड़ कर जेल पहुंचा दिया है.

मामला केरल के थिरुवनंतपुरम का है. स्थानीय शिव मंदिर में मीट के टुकड़े फेंकते हुए स्थानीय लोगों ने कुछ लोगों को पकड़ा था. जिनमे से एक बीजेपी नेता का पुत्र भी निकला.

और पढ़े -   मदरसे के वाटर टैंक में मिलाया ज़हर, शहर की फ़िज़ा बिगाड़ने की साज़िश

दरअसल बीते कई दिनों से मंदिर के आसपास इस घटना को अंजाम देकर माहौल बनाया जा रहा था कि ये काम मुसलमान कर रहे है.

इस बारें में पुलिस में शिकायत की गई थी लेकिन मीट के टुकड़े कौन फेंक रहा था, इसका पता नहीं चल सका. आख़िरकार इस पूरी साजिश का पर्दाफाश हो गया.

दरअसल जिस गाड़ी में मीट लेकर जाया जा रहा था वह बीजेपी नेता गिरीश से जुडी केरल कैटरिंग कंपनी की थी. केटरिंग कंपनी की गाडी से रात के समय बड़ी चतुराई से मीट के टुकड़े शिव मंदिर के आसपास डाल दिए जाते थे.

और पढ़े -   पूर्व कांस्टेबल अब्दुल क़दीर का हुआ निधन, दंगाईयों का साथ देने वाले वरिष्ठ अधिकारी की ली थी जान

अगले दिन में यह खबर फैलाई जाती थी कि इलाके के मुस्लिम मंदिर पर मीट के टुकड़े फेंकते हैं. ईद के दिन भी ऐसा ही किया गया लेकिन लोगों ने इन्हें रंगेहाथों पकड़ लिया.

इस दौरान बीजेपी नेता को बचाने के लिए पार्टी के नेता पुलिस के पास पहुँच गए. बीजेपी जिला नेता और नगर पालिका नगर पालिका एमआर गोॉपन ने भाजपा नेता के बेटे के खिलाफ मामला सुलझाने के लिए पुलिस स्टेशन पहुंचे.

और पढ़े -   गिरफ्तारी से बचने के लिए स्वामी कौशलेंद्र प्रपन्नाचारी अस्पताल में भर्ती, बलात्कार का है आरोप

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE