हाल ही में गुजरात के बोटाद जिले में स्थानीय एग्रीकल्चर प्रोड्यूस मार्केट कमेटी (APMC) के चुनाव में बीजेपी को करारी हार मिली है. चुनाव में खड़े हुए बीजेपी के सभी उम्मीदवार हार गये. बावजूद इसके पीएम मोदी ने चुनाव से पहले गुजरात  का दौरा किया था.

हार के बाद से ही गुजरात बीजेपी में घमासान मचा हुआ है. APMC के एक निदेशक ने कथित रुप से हारे हुए चेयरमैन भिखा लनिया को थप्पड़ भी लगा दिया, साथ ही चेयरमैन को हार के लिए जिम्मेदार ठहरा दिया. हालांकि APMC का चुनाव पार्टी सिंबल पर नहीं लड़ा जाता है लेकिन पार्टी समर्थित नेता ही इस चुनाव को जीतते हैं.

और पढ़े -   खतौली रेल हादसें में 8 अधिकारियों पर कार्रवाई, जांच में सामने आई खुलकर लापरवाही

वहीँ कांग्रेस का कहना है कि किसान वर्ग बीजेपी से नाराज है, किसानों को कपास और मूंगफली के उचित दाम नहीं मिल पा रहे हैं इसलिए किसानों ने बीजेपी को सबक सिखाया है. पाटीदार अनमात आंदोलन समिति (PAAS) ने बीजेपी की हार का जश्न मनाया है.

PAAS के बोटाद संयोजक दिलीप सबवा का कहना है कि ये नतीजा बीजेपी के प्रति किसानों के गुस्से को दर्शाता है, इसका ये भी मतलब है कि पीएम मोदी की घोषणाओं का भी किसानों पर कोई असर नहीं पड़ा है. बीजेपी किसान मोर्चा के अध्यक्ष बाबू जबेलिया बोटाद के ही रहने वाले हैं, उनका कहना है कि वे पार्टी की हार को स्वीकार करते हैं और इस बात का पता लगाएंगे कि आखिर बीजेपी से कहां चूक हुई है.

और पढ़े -   पंजाब: एक बार फिर से कुरान की बेअदबी, पुलिस को मिला 24 घंटे का अल्टीमेटम

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE