‘बेटी बचाव-बेटी पढ़ाओ’ के नारे देने वाली बीजेपी के नेता पर आज अदालत ने बलात्कार के आरोप में हाजिर न होने पर भगोड़ा करार दिया है.

मामला केंद्रशासित दीव का है. जहाँ दीव जिला पंचायत अध्यक्ष और बीजेपी नेता शशिकांत सोलंकी पहले ही स्थानीय अदालत उन्हें भगोड़ा घोषित कर चुकी है. लेकिन अब पुलिस ने उन की नकारी देने वाले को 25k का इनाम देने की घोषणा की है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, सोलंकी ने शादी का झांसा देकर महिला के साथ शारीरिक संबंध बनाए थे. पुलिस का कहना है कि सोलंकी पहले से उस महिला को जानते थे और दोनों की नियमित मुलाकातें होती थीं.

सोलंकी पर बलात्कार के आरोप में आईपीसी की धाराओं 376(रेप), 420(धोखाधड़ी), 452 और 505 के तहत केस दर्ज किया गया है. दीव के एसपी समीर शर्मा ने बताया कि रेप का केस दर्ज होने के बाद से सोलंकी फरार हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE