जहां पर संजीव बालियान ने प्रचार किया वहां पर कम से कम 2000 जाट परिवार रहते हैं।

मुजफ्फरनगर उपचुनावों में केन्‍द्रीय मंत्री संजीव बालियान ने 2013 में हुए दंगों और हिंदू महिलाओं से हुए रेप के मामलों को उठाते हुए वोट मांगे। गुरुवार को जाट कॉलोनी में प्रचार के दौरान बालियान ने कहा कि उन्‍हें पता है यहां पर मीडिया है लेकिन फिर भी वे अपनी बात कहना चाहेंगे। उन्‍होंने कहा,’आज से ढाई साल पहले पूरी जो समस्‍या जनपद में शुरु हुई, जो दंगा हुआ। जो भी यहां मौजूद है ऐसा कोई व्‍यक्ति यहां नहीं जिसका अपना कोई जेल नहीं गया और भगवान के पास ना गया हो। एक गुस्‍सा था उसे गुस्‍से की वजह से एक साधारण परिवार का एक छोटा भाई या बेटे को आपने संसद में भेजा।’

बालियान ने आगे कहा,’अब तक ये कपिल देव अग्रवाल का चुनाव था। आज आपके सामने कह रहा हूं ये जीत भी संजीव बालियान की और हार भी संजीव बालियान की।’ जहां पर बालियान ने प्रचार किया वहां पर कम से कम 2000 जाट परिवार रहते हैं। बालियान से पहले भाजपा प्रत्‍याशी कपिल देव अग्रवाल और अन्‍य लोगों ने रैली को संबोधित किया। पुलिस ने लिखित में अनुमति न होने के चलते भाजपा कार्यकर्ताओं के मार्च को रोक दिया।

चुनाव से 48 घंटे पहले मुजफ्फरनगर में सुरक्षा चौकस कर दी गई। इसके तहत पुलिस और पैरामिलिट्री फोर्सेज को तैनात किया गया है। साम्‍प्रदायिक तनाव को लेकर प्रशासन चौकस है। सिटी मजिस्‍ट्रेट, एसपी और एडीएम ने दोपहर के बाद शहर का दौरा किया। उन्‍होंने सुरक्षा व्‍यवस्‍था की जानकारी ली। (Jansatta)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें