पैगम्बर मुहम्मद (सल्ल.) पर सोशल मीडिया के जरिए की गई अशोभनीय टिप्पणी के बाद पश्चिम बंगाल में भड़की हिंसा के लिए राज्य के मुस्लिम नेताओं ने बीजेपी और आरएसएस को ज़िम्मेदार बताया है.

ऑल इंडिया सुन्नत अल जमायत के अध्यक्ष अब्दुल मातीन ने कहा कि राज्य में हमेशा से साथ रहते आये है. लेकिन अब उनके बीच नफरतों का बीज बोकर राजनितिक रोटियां सेंकने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने कहा कि ये सब आरएसएस और बीजेपी की और किया जा रहा है.

उन्होंने कहा, हिंसाग्रस्त इलाकों में पहले कभी भी आरएसएस सक्रिय नहीं हुआ था लेकिन अब बीजेपी और आरएसएस की मौजूदी इलाकों में बढ़ती जा रही है. यही कारण है कि राज्य में मुस्लिमों के खिलाफ हिंसा बढ़ रही है. इन लोगों की वजह से देश का मुसलमान खुद को असुरक्षित महसूस करता है.

गौरतलब रहें कि विवादित फेसबुक पोस्ट से भडकी हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हो गई. जिसके बाद से ही बदुरिया, बशीरहाट, हरोआ, स्वरूपनगर और देगंगा में हिंसा की में है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE