bijnour reality

बिजनौर – एक ही परिवार के 4 लोगो की घात लगाकर हत्या की जाती है तथा 12 लोग घायल है जिसे मीडिया अभी तक मुस्लिम और जाटों का संघर्ष बता रही है ध्यान दे मरने वाले तथा घायल सभी लोग मुस्लिम समुदाय से ताल्लुक रखते है.

क्या था सच और मीडिया ने क्या झूठ बोला 

अंग्रेजी के अख़बार इंडियन एक्सप्रेस में प्रकाशित खबर के अनुसार बिजनौर के पेंदा गाँव की एक मुस्लिम लड़की के साथ जाटों के लड़कों ने छेड़खानी की जिसे लेकर पीड़ित लड़की के भाइयों तथा जाटों के बीच हाथापाई भी हुई लेकिन मामला वही शांत हो गया था जिसे बाद में साम्प्रदायिकता के तहत भुनाया गया और घात लगाकर पीड़ित लड़की के परिवारजनो पर हथियारों से लेस होकर हमला बोल दिया गया. पीड़ित लड़की के घर से चारो तरफ की छतो पर चढ़कर फायरिंग की गयी जिसमे पीड़ित लड़की के परिवार के हसीनउद्दीन, सरफ़राज़ तथा एहसान की गोली लगने से घटनास्थल पर मौत हो गयी.

बरेली जोन के आईजी विजय सिंह मीना ने बताया की सुबह लगभग 7:30 बजे के समय जाट बिरादरी के कुछ युवकों ने मुस्लिम लड़की के साथ छेड़खानी की जिसके बाद लड़की ने अपने घर पर यह बात बताई फिर पीड़ित लड़की और जाट बिरादरी के युवकों में बस अड्डे पर ही हाथापाई भी हुई. जिसे स्थानीय नागरिकों ने समझा बुझाकर शांत करा दिया.

इसके बाद जाट बिरादरी के लगभग 100 लोग जो आस पास के गाँव से एकत्र हुए थे उनमे से कुछ लोगो ने मुस्लिम परिवार पर अन्धाधुन फायरिंग करनी शुरू कर दी. जिसमे 3 लोग मारे गये तथा अन्य घायल हुए. मीना के अनुसार ऍफ़आईआर लिख ली गयी है तथा छह लोगो को पूछताछ के लिए उठाया गया है. घटना के समय मौजूद तीन पुलिसकर्मियों को ससपेंड कर दिया गया है

“हसीनुद्दीन के 18 वर्षीय पुत्र मोहम्मद तालिब ने बताया की वह अपनी कजिन बहिन को स्कूल छोड़ने जा रहा था जहाँ कुछ युवकों ने उसपर भद्दे कमेंट किये. मैंने उन्हें नज़रंदाज़ कर दिया लेकिन मेरे अंकल उनके सामने चले गये. जैसे ही मैं वहां पहुंचा उनके बीच झगडा शुरू हो गया. लेकिन बाद में मामला सुलझ गया था लेकिन बाद में वो लोग औरो के साथ हमारे गाँव में आ गये” सबसे पहले उन्होंने हमारे पडोसी के सलून को आग के हवाले कर दिया और पथराव करने लगे यह सब वहां मौजूद तीन पुलिसकर्मियों के सामने हुआ.. मेरे एक पडोसी ने 100 नंबर पर कॉल की लेकिन उन्होंने कोई जवाब नही दिया”

“पांच लोग अलग अलग दिशाओं से छतों पर तथा पेड़ो पर चढ़ गये और फायरिंग शुरू कर दी, मेरे बहनोई तथा बहिन जो शादी के बाद पहली बार घर आये थे हम सब आपस में बातें कर रहे थे अचानक हमने शोर सुना और एक के बाद एक तीन लोग मेरी आँखों के सामने गिरते चले गये”

इंडियन एक्सप्रेस की खबर तथा सूत्रों पर आधारित

 


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें