उत्तर प्रदेश में बलात्कार, छेड़छाड़ की घटनाओं पर लगाम लगाने में योगी सरकार पूरी तरह से नाकाम हो चुकी है. ये घटनाएं अब सड़क से होकर ट्रेन तक पहुंच गई है. जिन्हें खुद महिलाओं की सुरक्षा के लिए नियुक्त किये गए जवान अंजाम दे रहे है.

लखनऊ से चंडीगढ़ जा रही एक ट्रेन में एक  मुस्लिम (रोजेदार) युवती के साथ रेलवे पुलिस के सिपाही ने रेप किया. प्राप्त जानकारी के अनुसार, चांदपुर से विकलांगो के कोच में एक युवती सवार हुई थी. इसी दौरान मुरादाबाद जीआरपी एस्कोर्ट में चल रहा सिपाही कमल शुक्ला इस कोच में पहुंचा और वहां सवार पुरुष यात्रियों को हल्दौर स्टेशन पर धमकाकर कोच से उतार दिया.

और पढ़े -   देहरादून: मिशन 2019 से पहले बीजेपी को बड़ा झटका, छात्रसंघ चुनाव में एबीवीपी का सूपड़ा साफ

उसके बाद सिपाही ने अकेली युवती के साथ दुष्कर्म किया. सुबह पौने दस बजे जब ट्रेन बिजनौर पहुंची तो यात्रियों ने कोच खुलवाया, तब घटना की जानकारी हुई. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि कोच जब खुलवाया गया उस समय सिपाही अर्धनग्न था. लोगों का गुस्सा भड़क गया और सिपाही को पकड़ कर पीटना शुरू कर दिया. इसी दौरान महिला को बेहोशी की हालत में जिला अस्पताल भेजा गया है.

और पढ़े -   रियल में शुरू हुई 'टॉयलेट एक प्रेमकथा', शौचालय के लिए महिला ने मांगा तलाक

जीआरपी एसपी केके चौधरी ने बताया कि पूछताछ में प्रारंभिक रूप से जो जानकारी मिली है, उसके अनुसार आरोपी सिपाही कमल शुक्ला जीआरपी मुरादाबाद में तैनात है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE