एक अप्रैल से बिहार में शराब बंदी का आदेश लागू करने वाली बिहार की नीतीश सरकार ने पांच दिन में ही एक और बड़ा फैसला ले लिया है। कैबिनेट की बैठक में मंगलवार को सरकार ने अंग्रेजी शराब को भी बैन करने का फैसला किया है।

nitish-kumar-meets-party-mps-mlas-over-sampark-yatra_2710140600261

इस घोषणा के साथ बिहार भी उन चंद राज्यों में शामिल हो गया है जहां शराब पर पूरी तरह पाबंदी है। विधानसभा चुनाव से पूर्व नीतीश ने वादा किया था कि अगर उनकी सरकार में वापस आती है तो शराब पर पूरी तरह पाबंदी लगा दी जाएगी। सत्ता में आने के चंद दिनों बाद ही नीतीश ने अपना वादा निभाते हुए राज्य में शराब बंदी की घोषणा कर दी थी।

और पढ़े -   मध्यप्रदेश की तरह महाराष्ट्र में भी किसान हुए उग्र, जमकर कर रहे आगजनी और तोड़फोड़

इसके बाद इस महीने एक अप्रैल से इसे लागू भी कर दिया गया। शराब पर यह पाबंदी दो चरणों में होनी थी। प्रथम चरण में पूरे राज्य में देशी शराब और देहात के क्षेत्रों में अंग्रेजी शराब की बिक्री पर पाबंदी लगाई गई थी। सरकार ने जारी लाइसेंस वाली दुकानों और होटल एवं बार को शराब बिक्री और परोसने की छूट दी गई थी। (liveindiahindi.com)

और पढ़े -   शर्मनाक: पीट-पीट कर मारे गए ज़फ़र खान की कब्र के साथ की गई छेड़छाड़

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE