bihar flood

बिहार में बाढ़ से हालात इतने बदत्तर हो चुके हैं कि लोग भूख मिटाने के लिए चूहे खाने को मजबूर हैं.  ये चूहे भी फ्री में नहीं बल्कि 40-50 रुपए किलो बिक रहे है. बाढ़ प्रभावित इलाकों खासकर कोसी और सीमांचल में हालात दिन पर दिन बिगड़ते जा रहे हैं.

कोसी नदी में बाढ़ के पानी से घिर चुके लोगों के लिए खाने की व्यवस्था करना बेहद मुश्किल भरा काम बन गया है.  जिसके बाद सहरसा जिले के कई गांवों में लोग अब चूहे खाकर अपनी भूख मिटा रहे हैं.

और पढ़े -   दूरदर्शन और आकाशवाणी ने स्वतंत्रता दिवस पर त्रिपुरा के सीएम के भाषण नहीं किया प्रसारित

बाढ़ से पीड़ित लोगों का कहना है, ‘’हम कोसी नदी के पानी से घिर चुके हैं. बाजार की ओर जाने वाले सभी रास्तें बाढ़ के पानी में डूबे हुए हैं. हमारे पास अनाज का एक दाना भी नहीं बचा है ऐसे में हमें चूहों को ही पकाना पड़ रहा है.’’

खेतों में पानी भर जाने के चलते बड़ी संख्या में चूहे गांव की ऊंची जमीन पर शरण लेने पहुंच गए हैं. बारिश में घिरे गांव के ही कुछ लोग दिनभर चूहे पकड़ते हैं और उसे 40 से 50 रुपए किलो बेच रहे हैं.

और पढ़े -   बिहार में बाढ़ बरपा रही कहर- अब तक गई 106 लोगों की जान, बढ़ सकता है आंकड़ा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE