bhopal

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में मुस्लिम महिलाओं ने शरियत के तहत तीन तलाक के समर्थन में हस्ताक्षर अभियान चलाया. साथ ही इस मुद्दें पर केंद्र सरकार का विरोध करते हुए मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रति अपना समर्थन जताया.

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड द्वारा जारी किये गये तीन तलाक के समर्थन और समान नागरिक संहिता के विरोध में निर्धारित प्रोफार्मा भर कर, अपने हस्ताक्षर के साथ लिखकर कहा कि मुस्लिम महिलाए का  शरीयत के कानून पर यकीं हैं और वह इसमें किसी भी प्रकार का बदलाव नहीं चाहतीं.

और पढ़े -   गौशाला में गौ-माताओं को मार कर खालों की तस्करी करता था बीजेपी का गौभक्त नेता

उन्होंने आगे कहा, वे शारियत में किसी तरह के बदलाव के खिलाफ हैं. अगर सरकार ऐसी कोई कोशिश करेगी तो मुस्लिम महिलाएं इस का पुरजोर विरोध करेगी. हस्ताक्षर अभियान चला रहें आबिद हुसैन ने कहा कि इस्लाम ने महिलाओं को सभी अधिकार दिये हैं ऐसे में राजनीति करना ठीक नहीं है.

उन्होंने आगे कहा, अगर मोदी सरकार अपनी गिरती हुई लोकप्रिय को बचाना चाहती है तो उन्हें इधर उधर के मुद्दे छोड़ कर जनहित के मुद्दे पर काम होगा.

और पढ़े -   गुजरात में स्वाइन फ्लू का कहर, मरने वालों की संख्या पहुंची 242 तक

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE