ravan

सहारनपुर हिंसा के मुख्य आरोपी भीम आर्मी चीफ चन्द्रशेखर ‘रावण’ को इलाहाबाद हाई कोर्ट से आज जमानत मिल गई है. उनके साथ सहारनपुर जिला अध्‍यक्ष कमल वालिया सहित 4 लोगों  को भी जमानत मिली है.

ध्यान रहे सहारनपुर में 5 मई को हुई जातीय हिंसा का मास्टरमाइंड बताया गया था. जिसके बाद रावण सहित अन्य लोगों  पर हत्या के प्रयास, लूट, बलवा और आगजनी जैसे गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज  हुआ था. रावण को 7 जून को यूपी-हिमाचल पुलिस ने हिमाचल के डल्हौजी से गिरफ्तार किया था. वह हिमाचल में एक दलित नेता के यहां शरण लिए हुए था.

इस मामले में अब हाईकोर्ट ने चन्द्रशेखर रावण और डिप्टी चीफ कमल वालिया की गिरफ्तारी को राजनीति से प्रेरित मानते हुए जमानत अर्जी मंजूर की है. इस जुड़े एक मामले में पहले ही रावण को सेशन कोर्ट सहारनपुर से जमानत मिल चुकी है.

बीते कई दिनों से रावण का स्वास्थ्य टाइफाइड बुखार होने की वजह से दस दिन से खराब चल रहा था. हालत में सुधार ना होने पर जेल प्रशासन ने उन्हें सरकारी अस्पताल में भर्ती भी कराया था. तबीयत में कुछ सुधार होने के बाद चंद्रशेेखर को जेल में शिफ्ट कर दिया. मगर उनकी हालत फिर से बिगड़ने लगी.

भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने चंद्रशेखर को बेहतर इलाज एवं कड़ी सुरक्षा प्रदान करने की मांग करते हुए चेतावनी दी थी कि अगर चंद्रशेखर को कुछ होता है तो इसका जिम्मेदार प्रशासन होगा और भीम आर्मी आंदोलन करेगी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE