opp

उत्तराखंड की रुद्रपुर इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी में एक मुस्लिम छात्र की इसलिए एडमिशन देने से मना कर दिया उसने अपने धार्मिक कर्तव्यों के पालन के लिए दाढ़ी रखी हुई हैं.

आजाद नगर लाइन नंबर 15 निवासी मसरूर अहमद हल्द्वानी जामा मस्जिद कमेटी के सदर है उनके बेटे गुलाम गौस ने उत्तराखंड प्राधिविक शिक्षा परषिद की रुड़की पोलीटेकनिक परीक्षा पास की. सोमवार को गुलाम गौस को इंस्टिट्यूट की और से एडमिशन के लिए बुलाया गया था. मसरूर अहमद का आरोप है की कॉलेज की लेडी टीचर आभा और प्रधानाचार्य अमरनाथ ने उनके बेटे की लंबी दाढ़ी देख एडमिशन देने से मना कर दिया और हमसे कहा गया की दाढ़ी कटवाने के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा.

और पढ़े -   अनंतनाग में आतंकियों का बड़ा हमला, SHO सहित 6 पुलिसकर्मी शहीद, शवों से हुई बर्बरता

मंगलवार को मसरूर ने मामले की शिकायत डीएम से की, मामला तूल पकड़ता देख कॉलेज ने छात्र को एडमिशन के लिए बुला लिया है। कॉलेज का कहना है की स्कूल मे आने वाले हर छात्र को ड्रेस हेयर और क्लीन सेव करने के लिए कहा जाता है छात्र के अभिवावक ने इससे गलत समझा हम छात्र को एडमिशन दे रहे हैं.

और पढ़े -   शमशान में इलाज के बहाने तांत्रिक ने किया था महिला से बलात्कार, मिली 7 साल की सजा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE