बायतु। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश स्तरीय किसान मोर्चा आपके द्वार कार्यक्रम के तहत बुधवार को बाड़मेर जिले का जिला स्तरीय कार्यक्रम बायतु मुख्यालय पर हुआ। इसमें जेएनयू विवाद छाया रहा। किसान मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष व बायतु विधायक कैलाश चौधरी ने कहा कि भारत माता के खिलाफ गद्दारी करने वालों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जेएनयू में अफजल गुरु व पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वाले देशद्रोही हैं।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी पर कथित तौर पर इस मामले में दोषी छात्रों का समर्थन करना गलत है। यह देश के साथ गद्दारी है। ऐसे लोगों को सजा मिलनी चाहिए। ऐसे देशद्रोहियों को चौराहे पर लाकर गोली मार देनी चाहिए। हम भारतमाता के खिलाफ गद्दारी करने वालों को बर्दाश्त नहीं करेंगे।

उन्होंने कहा कि फसल बीमा योजना में भी नुकसान के आकलन में सरकार ने बदलाव करते हुए राजस्व गांव व प्रत्येक खेत को इकाई माना है, जबकि पहले तहसील स्तर को इकाई माना जाता था। नहरी एवं सिंचाई मंत्री डॉ. रामप्रताप ने कहा कि अब देश में प्रदेश के किसानों की स्थिति सुदृढ़ हो रही है। गांव-ढाणी के खेतिहर किसान के लिए देश व राज्य की सरकार ने कई कल्याणकारी योजनाएं लागू की है।  
किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री शैलाराम सारण ने कहा कि अब प्रदेश के किसानों को विभिन्न योजनाओं का पूरा लाभ मिलेगा। बाड़मेर यूआईटी अध्यक्ष डॉ. प्रियंका चौधरी, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य बालाराम मंूढ़, किसान मोर्चा प्रदेश मंत्री शिवराज बिश्रोई, ओपी यादव, प्रदेश महामंत्री राजेन्द्र मीणा, सिवाना विधायक हमीरसिंह भायल, भाजपा जिलाध्यक्ष कानसिंह कोटड़ी, प्रदेश मंत्री मुकुट नागर, संसदीय सचिव भैराराम सियोल ने भी संवोधित किया। इस मौके चौहटन प्रधान कुंभाराम सेंवर, टीकमचंद लेगा, जिला उपाध्यक्ष कुंभाराम धतरवाल, मण्डल अध्यक्ष चैनाराम कड़वासरा, मूलाराम बैरड़, रविन्द्र पोटलिया, प्रदेश प्रवक्ता नंदकिशोर शर्मा आदि मौजूद थे। 
पोस्टर का विमोचन
कार्यक्रम में जल संसाधन मंत्री रामप्रताप व बायतु विधायक ने बाड़मेर जिले के शहीद धर्माराम की मूर्ति के अनावरण को लेकर पोस्टर का विमोचन किया। इस मौके प्रेमाराम भादू, लाखाराम लेगा, गजेंद्र चौधरी आदि मौजूद थे। 
जेएनयू मामले में राहुल को घेरा
किसान मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष कैलाश चौधरी ने बुधवार को संवाददाताओं से बातचीत में कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष को घेरा। राहुल की ओर से जेएनयू के कुछ छात्रों की ओर से किए गए कथित आचरण का समर्थन करने पर चौधरी ने कहा कि ऐसे लोगों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए। उन्होंने सरकार की ओर से चलाई जा रही किसानहित की योजनाओं के बारे में भी जानकारी दी। 
इधर, कांग्रेस ने की भत्र्सना 
 यह व्यक्ति नहीं बोल रहा है। सोच और सिद्धांत बोल रहे है। एेसी सोच हिंसा व टकराव को फैलाती है। यह भरत की सोच नहीं है। लोकतंत्र में जीत के बाद इतनी संकीर्ण मानसिकता की भत्र्सना करता हूं। छात्रसंघ अध्यक्ष ने एेसा कोई बयान नहीं दिया और राहुल गांधी वहां अफजल गुरु के लिए नहीं गए। हरीश चौधरी, सचिव अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (राजस्थान पत्रिका)

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें