Khaki shaming, she found the objectionable condition Inspector

उत्तर प्रदेश के बरेली में नैशनल हाइवे पर महिला टीचर के साथ ‘सामूहिक बलात्कार’ का मामला जांच में फर्जी पाया गया है. पुलिस का दावा है कि कथित पीड़ित ने खुद को ‘बचाने’ के लिए झूठी कहानी गढ़ी थी.दरअसल शिक्षिका से गंैगरेप का कथित आरोपी कोई और नहीं बल्कि उसका प्रेमी अमित राठौर है.

पुलिस ने मंगलवार को अमित राठौर को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसने बताया कि शिक्षिका उसके ऊपर शादी का दबाब बना रही थी. शादी के लिए समय मांगने पर उसे फंसाने की साजिश रची गई है. अमित ने बताया कि घटना के ही दिन युवती ने उससे उसके घर पर संबंध बनाया था।.

रेली के पुलिस उपमहानिरीक्षक आशुतोष कुमार ने बताया कि इस मामले में अमित राठौर नामक युवक की गिरफ्तारी के बाद कथित बलात्कार पीड़ित के सामने हुई पूछताछ से पता चला कि दोनों शादी करना चाहते थे, लेकिन लड़की के परिवार के लोग इसके लिए राजी नहीं थे.

पूछताछ में यह भी पता लगा है कि एक युवक ने टीचर को उसके प्रेमी के साथ आपत्तिजनक हालत में देखकर उसकी वीडियो क्लिपिंग बना ली थी. टीचर ने स्वीकार किया कि उसने झूठी कहानी इसलिए रची, क्योंकि उसे आशंका थी कि वह वीडियो उसके भाई और मां को दिखा दी जाएगी, तो सब कुछ जाहिर हो जाएगा.

गौरतलब रहें कि सीबीगंज थाना क्षेत्र में मंगलवार को एक शिक्षिका ने अपहरण और सामूहिक बलात्कार का आरोप लगाते हुए तीन अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया था.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें