समाजवादी पार्टी के नेता बुक्कल नवाब ने योध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए 15 करोड़ रु देने का ऐलान किया है. साथ ही उन्होंने मुकुट के लिए अलग से 10 लाख देंने की भी घोषणा की है.

बुक्कल ने कहा, भगवान राम का मंदिर हर हाल में अयोध्या में बनना चाहिए. राम अयोध्या में पैदा हुए थे, ऐसे में उनका मंदिर अयोध्या में ही बनना चाहिए. बुक्कल ने बताया कि अभी उन्हें सरकार से करीब 30 करोड़ रुपए का मुआवजा मिलना है. इस जमीन का इस्तेमाल सरकार ने गोमती रिवरफ्रंट बनाने में किया है. लेकिन अभी तक सरकार ने जमीन का मुआवजा नहीं दिया है. जैसे ही सरकार से जमीन का मुआवजा मिलता है, वह इस रकम में से 50 प्रतिशत रकम राम मंदिर के निर्माण के लिए दान कर देंगे.

और पढ़े -   पंजाब: एक बार फिर से कुरान की बेअदबी, पुलिस को मिला 24 घंटे का अल्टीमेटम

बुक्कल नवाब पर फर्जी तरीके से आठ करोड़ रुपए मुआवजा लेने का आरोप है. उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई गई है. उन्हें यह रकम वापस करने के लिए नोटिस जारी की गई है. यही नहीं बुक्कल नवाब पर हुसैनाबाद क्षेत्र में तीन अवैध अपार्टमेंट बनाने का भी आरोप है. नवाब ने एलडीए से एकल आवासीय मकान का नक्शा पास कराकर उस पर पांच मंजिला अपार्टमेंट बना लिया है. इस पर एलडीए के विहित प्राधिकारी की अदालत ने बुक्कल नवाब की तीनों इमारतों को ध्वस्त करने का आदेश दिया है.

और पढ़े -   देहरादून: मिशन 2019 से पहले बीजेपी को बड़ा झटका, छात्रसंघ चुनाव में एबीवीपी का सूपड़ा साफ

अवैध निर्माण पर बुक्कल नवाब का कहना है कि सपा एमएलसी होने के नाते उन्हें परेशान किया जा रहा है. उन्होंने एकल आवासीय के हिसाब से पूरा पैसा देकर तीन मंजिल का नक्शा पास कराया है. एक मंजिल का निर्माण अवैध तरीके से बिल्डर ने कर दिया है. इसे तोड़ोगे तो बिल्डर का नुकसान होगा. इसलिए इसके शमन कराने को तैयार हैं. मगर एलडीए नहीं मान रहा है.

और पढ़े -   दलितों के रामायण पाठ से दूर रहने के लिए पुजारी ने मंदिर के बाहर चिपकाया नोटिस

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE