babulal gaur hoist congress flag

भोपाल। अपने बयानों की वजह से भाजपा के लिए मुश्किल खड़ी कर रहे मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम बाबूलाल गौर ने एक बार फिर पार्टी को परेशान कर दिया है। उन्होंने इस बार एक कार्यक्रम के दौरान अपने हाथों में कांग्रेस का झंडा थाम लिया। झंडे को खूब लहराया। 85 वर्षीय बाबूलाल गौर ने इस मुद्दे पर विवाद होने क पर अपनी ओर से सफाई भी दी है। उन्होंने स्पष्ट किया कि वह पार्टी में ही हैं और यह सब दुर्घटनावश हुआ है।

दरअसल भोपाल में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर कांग्रेस विधायक आरिफ अकील ने पैगाम-ए-मोहब्बत रैली का आयोजन किया था। इस रैली में पूर्व सीएम बाबूलाल गौर मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए थे। इस रैली का शुभारंभ करते हुए बाबूलाल गौर ने कांग्रेस का झंडा थाम लिया और वे काफी देर तक ये झंडा लहराते हुए कैमरे में कैद हो गए।

गौर ने इस कार्यक्रम में कांग्रेस विधायक आरिफ अकील की भी जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि इकबाल साहब ने कहा था, सारे जहां से अच्छा हिंदुस्तान हमारा और सबसे अच्छे भोपाल में आरिफ अकील हमारा।

गौरतलब है कि गौर को करीब डेढ़ महीने पहले 75 वर्ष से ज्यादा उम्र का हवाला देकर शिवराज सिंह चौहान कैबिनेट से इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया गया था। इसके बाद से गौर विधानसभा के अंदर और बाहर अपने तल्ख बयानों से भाजपा को संकट में डाल रहे है, जिसमें विधानसभा में सरकार के कर्ज पीकर घी पीने वाला बयान भी शामिल है।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें