मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने शुक्रवार को तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के स्‍थापना दिवस समारोह में पहुंचकर सभी को हैरान कर दिया। खबर है कि अपने लोकसभा क्षेत्र आसनसोल में बाबुल सुप्रियो ने न केवल म्‍युनिसिपिल कॉर्पोरेशन के चेयरमैन और टीएमसी नेता जितेंद्र तिवारी के साथ मंच साझा किया बल्कि उनके लिए गाना भी गाया। सूत्रों के मुताबिक, उनकी इस हरकत पर प्रदेश बीजेपी अध्‍यक्ष दिलीप घोष ने उन्‍हें तलब भी किया। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, जिसमें बीजेपी मानकर चल रही है कि उसकी टक्‍कर टीएमसी से है।

और पढ़े -   गौरक्षा के नाम पर रेलवे कर्मचारियों को पीटने के मामलें में 2 भगवा गुंडे गिरफ्तार

ऐसे में बीजेपी के केंद्रीय मंत्री का टीएमसी के स्‍थापना दिवस समारोह में जाना राज्‍य में चर्चा का विषय बन गया है। वैसे सूत्र इस बात की पुष्टि कर रहे हैं कि दिलीप घोष ने बाबुल सुप्रियो से इस मामले पर स्‍पष्‍टीकरण मांगा है, लेकिन घोष इससे इनकार कर रहे हैं। हालांकि, उन्‍होंने यह स्‍वीकार किया कि दिल्‍ली लौटने से पहले उनकी बाबुल सुप्रियो के साथ मुलाकात हुई थी, लेकिन किसी प्रकार का स्‍पष्‍टीकरण मांगे जाने की बात से उन्‍होंने इनकार कर दिया। आपको बता दें कि टीएमसी के कार्यक्रम में शामिल होने से ठीक एक दिन पहले बाबुल सुप्रियो ने ट्वीट कर मोदी सरकार के फैसले पर इशारों-इशारों में नाराजगी जाहिर की थी।

और पढ़े -   मालेगांव निगम चुनाव में ओवैसी की पार्टी ने 7 सीटों पर लहराया जीत का परचम

उन्‍होंने 19982 बैच के आईएएस अफसर संजय मित्रा को केंद्र सरकार में रोड सेक्रेटरी बनाए जाने के मामले पर ट्वीट किया था। सुप्रियो ने लिखा था, ‘पश्चिम बंगाल में मेरे और विकास के बीच सबसे बड़ी बाधा बने संजय मित्रा अब एक्‍स चीफ सेक्रेटरी हो गए हैं। वो आईएएस के पद पर बैठे टीएमसी काडर थे।’ उन्‍होंने अगले ट्वीट में संजय मित्रा को नई पोस्टिंग के लिए बधाई दी थी। सुप्रियो ने लिखा, ‘मैं उन्‍हें श्री गडकरी जी के मंत्रालय में पोस्टिंग पर बधाई देता हूं।’ ‘इंडियन एक्‍सप्रेस’ से बात करते हुए बाबुल सुप्रियो ने कहा कि यह पहली बार नहीं है, जब उन्‍होंने मित्रा की आलोचना की हो। अब वो बंगाल में नहीं हैं तो हम अच्‍छा काम कर पाएंगे। साभार: जनसत्ता

और पढ़े -   अलीगढ़: ठाकुरों ने भी चला दलितों का दांव, प्रशासन को दी इस्लाम अपनाने की धमकी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE