उत्तर प्रदेश में बलिया जिले की एक अदालत ने एक बलात्कारी बाबा को दस साल की सजा सुनाई हैं. प्राप्त जानकारी के अनुसार धर्मपाल नामक बाबा को दस वर्ष की कैद और एक लाख रूपए के जुर्माने की सजा सुनायी।

अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश फास्ट ट्रैक कोर्ट (प्रथम) अमरपाल सिंह की अदालत ने कल शाम दुष्कर्म के मामले में अभियुक्त बाबा को दोषी ठहराते हुए दस साल की सजा और एक लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई।

और पढ़े -   देखें तस्वीरें: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में कुछ ऐसे मनाया गया जश्न ए आजादी

गोरतलब रहें कि हल्दी थाना क्षेत्र के नागपुर मठिया में पुजारी बाबा धर्मदेव दास ने 21 मार्च 2015 को अंधी युवती के साथ बलात्कार किया था. पुजारी ने पीडिता को अपने मठ पर बुलाया था।

इस दोरान पीडिता की मां को बाबा ने बगल से दूध लाने के लिए बाहर भेज दिया था और मोका पाकर उसके साथ दुष्कर्म किया था। युवती के विरोध करने पर बाबा ने उसे जान से मारने के कोशिश भी की थी। इस दोरान उसने पीडिता पर चिमटे से प्रहार किया था।

और पढ़े -   आज़ादी के 70 साल बाद भी जातिवाद, ऊंच-नीच, भ्रष्टाचार से आज़ादी की ज़रूरत : फैसल लाला

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE