जयपुर। योग गुरू बाबा रामदेव ने जयपुर में एक विवादास्पद बयान देते हुए कहा कि हमारे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की आत्मा को शान्ति मिले। यह बात उन्होंने उस समय कही जब उनसे किसी ने नदिया जोडने की योजना के बारे में पूछा था। रामदेव की बात सुनकर मंच पर बैठक संघ के पदाधिकारी भी एक दूसरे के बगले झाकने लगे, लेकिन जब योगगुरू को अपनी भुल का अहसास हुआ तो उन्होंने अपना वक्तव्य अटल जी के अस्वस्थ्यता से जोड़ दिया।

और पढ़े -   कानून व्यवस्था को लेकर हाई कोर्ट ने लगाई योगी सरकार को फटकार, कहा - अपराधियों को करे नियंत्रित

atal bihari vajpayee

गौरतलब है कि बाबा रामदेव जयपुर में आयोजित भारतीय किसान संघ के एक अधिवेशन में भाग लेने आए थे। उस समय उन्होंने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार नदियों को जोड़ने की योजना पर अच्छा काम कर रही है और उम्मीद है कि यह योजना मोदी सरकार के कार्यकाल में ही पूरी हो जाएगी। इसी दौरान उन्होंने गलती से कह दिया कि सरकार की इसी योजना से अटल बिहारी वाजपेयी की आत्मा को शान्ति मिलेगी।

और पढ़े -   "किस शाखा में भाजपाइयों को ISI का जासूस और देह व्यापार की ट्रेनिंग दी जाती है"

उन्होंने आगे कहा कि केन्द्र सरकार ने कर्मचारियों के लिए वेतन आयोग बनाया, विधायकों का मानदेय बढ़ाया, लेकिन किसानों के लिए आज तक कोई आयोग नहीं बना। अब समय आ गया है जब किसानों को अपने हक के लिए आगे आना होगा। योग गुरु ने मोदी सरकार की जमकर तारीफ की पर उन्होंने साथ ही ये भी कहा कि जब तक सरकार की नाक नहीं दबावोगे तब तक काम नहीं होता। (राजस्थान पत्रिका)

और पढ़े -   मिलिए मकबूल अहमद से जो 300 गरीब लोगों को कराते है रोजाना निशुल्क भोजन

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE