मेरठ : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली के पोस्टरों पर कथित तौर पर कालिख पोतने और अंडे फेंकने के मामले में मेरठ जिले की थाना सदर पुलिस ने करीब डेढ़ सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इन लोगों की शिनाख्त के प्रयास भी किए जा रहे हैं।
मोदी और जेटली के पोस्टरों पर कालिख पोतने वाले 150 व्यापारियों पर मुकदमा दर्ज
पुलिस के अनुसार 23 मार्च को होली के दिन मेरठ व्यापार मंडल और सर्राफा कारोबारियों ने उग्र प्रदर्शन किया था। इस दौरान बेगमपुल पर प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली के पोस्टरों पर कथित तौर पर कालिख पोती और अंडे फेंके थे।
सदर पुलिस के अनुसार घटना के संबंध में व्यापारी नेता राजकुमार भारद्वाज तथा सर्वेश कुमार सर्राफ समेत पांच लोगों को नामजद कर शेष करीब 145 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। उधर, घटना में नामजद किये गये मेरठ बुलियन ट्रेडर्स एसोसिएशन के महामंत्री सर्वेश कुमार ने आज कहा कि प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री के पोस्टरों पर कालिख पोतने तथा अंडे फेंकने वाले लोगों से एसोसिएशन का कोई लेना-देना नही है। उन्होंने घटना में शामिल लोगों की शिनाख्त कर उनके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग करते हुए कहा कि किसी भी निर्दोष के खिलाफ कार्रवाई नहीं होनी चाहिए।
इस बीच, कांग्रेस ने कहा है कि अगर व्यापारियों के खिलाफ दर्ज मुकदमे वापस नहीं लिये गये तो पार्टी विरोध प्रदर्शन करेगी। कांग्रेस के जिलाध्यक्ष विनय प्रधान ने कहा कि व्यापारियों का पुलिस उत्पीड़न कांग्रेस कतई सहन नही करेगी। (इंडिया संवाद)

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें