आर्कबिशप लियो कॉरनेलियो ने शुकवार को आरोप लगाया कि मध्‍य प्रदेश में धर्मांतरण विरोधी कानून का गलत इस्‍तेमाल हो रहा है। ईसाईयों के खिलाफ जबरन धर्मांतरण के फर्जी केस थोपे जा रहे हैं। आर्कबिशप कॉर्नेलियो ने कहा, ”कट्टरपंथी तत्‍व इस बात का फायदा उठाना चाहते हैं कि बीजेपी सत्‍ता में है।”

हाल ही में कैथोलिक सेक्‍युलर फोरम (CSF) ने दावा किया था कि आजादी के बाद भारतीय ईसाइयों के लिए 2015 सबसे बुरा साल रहा। सीएसएफ का यह भी कहना है कि एमपी में अल्‍पसंख्‍यक समुदाय के लोगों पर सबसे ज्‍यादा हमले हो रहे हैं। आर्कबिशप ने कहा, ”चीफ मिनिट शिवराज सिंह चौहान की नीयत अच्‍छी है, लेकिन एक छोटा इंसान भी गलत हरकत कर सकता है, जब कट्टरपंथी तत्‍वों को यह लगे कि यह उनकी सरकार है। ”धर्मांतरण से जुड़े सवालों पर कॉर्नेलियो ने माना कि हर धर्म में कट्टरपंथी होते हैं, लेकिन इसके लिए धर्म को दोष नहीं दिया जा सकता। उन्‍होंने कहा, ”सैकड़ों स्‍टूडेंट्स ईसाई स्‍कूलों में पढ़ते हैं, लेकिन उनमें से कितने ऐसे हैं जो धर्मांतरण से जुड़ी शिकायत करते हैं?”

और पढ़े -   नमाज के वक्त गोलीबारी करने पर डीएसपी मोहम्मद अयूब की भीड़ ने की पीट-पीटकर हत्या

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE