गुरुवार को सड़क हादसे में समाजवादी पार्टी के विधायक हाजी इरफान की मौत हो गई थी। हाजी इरफान मुरादाबाद के बिलारी से विधायक थे। अब 2 दिन के बाद उनकी मौत को लेकर एक नया खुलासा हुआ है।

सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए विधायक हाजी इरफान को बिना ऑक्सीजन वाली एंबुलेंस में बदायूं के अस्पताल ले जाया गया था। विधायक तड़पत रहे लेकिन एंबुलेंस में उनके लिए ऑक्सीजन की ही सुविधा नहीं थी। जिस एंबुलेंस में विधायक को ले जाया गया था उसमें ऑक्सीजन किट खराब थी। यह खुलासा डीएम जांच के बाद सामने आया है।

विधायक की मौत के बाद हुए इतने बड़े खुलास के बाद मामले में मजिस्ट्रेटी जांच बैठा दी गई है। शासन ने भी स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही पर संज्ञान लिया है।

आपको बता दें कि सपा विधायक हाजी इरफान समेत तीन लोगों की दुर्घटना में मौत हो गई थी, जबकी 2 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी। हादसे में विधायक का बेटा भी गंभीर रूप से घायल हो गया था। उसका इलाज अभी भी अस्पताल में चल रहा है।

विधायक के घायल होने की सूचना पर 108 एंबुलेंस पहुंची थी,  जिससे उन्हें पहले जिला अस्पताल, उसके बाद बरेली इलाज के लिए ले जाया गया। हालांकि, रास्ते में ही विधायक हाजी इरफान ने दम तोड़ दिया था। विधायक की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही का मामला अब उठने लगा है। उनके बेटे ने रामपुर में गंभीर आरोप लगाए। उसके बाद ही शुक्रवार को डीएम जिला अस्पताल पहुंचे।

जिस 108 नम्बर एंबुलेंस में विधायक को ले जाया गया था, उसकी जांच की गई जांच में सामने आया कि जि एंबुलेंस में हाजी इरफान को ले जाया गया था उसमें ऑक्सीजन किट ही खराब थी। हो सकता है अगर विधायक को समय से ऑक्सीजन मिल जाती तो शायद हाजी इरफान जिंदा होते. (indiavoice)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE