अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी ने एसिड पीड़ितों को अपने जे एन मेडिकल कॉलेज के जरिये मुफ्त इलाज कराएगी. इलाज के अलावा पीड़ितों के अन्य सारे खर्च भी यूनिवर्सिटी ही वहन करेगी.

छाँव फाउंडेशन के लिखित अनुरोध पर एएमयू ने ये फैसला लिया हैं. ये फाउंडेशन आगरा स्थित शेरोज़ कैफ़े संचालित करती हैं जिसे एसिड अटैक का शिकार हुई लड़कियां चलाती हैं.

यूनिवर्सिटी ने इस फैसले के बारें में बताया कि AMU मरीज़ को एसिड विक्टिम होने का सर्टिफ़िकेट भी जारी करेगी. जिसकी सहयता से विक्टिम सरकार से मुआवजा भी ले सकेगा.

और पढ़े -   राम मंदिर तोड़कर बनाई थी बाबरी मस्जिद, अब बने रामलला का मंदिर: शिया वक्फ बोर्ड

यूनिवर्सिटी के इस सराहनीय कदम के बाद एसिड विक्टिम को अब आगरा, मथुरा और आसपास के इलाकों के मरीज़ को दिल्ली और चेन्नई जाने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी.

मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ तारिक मंसूर ने बताया कि इस सन्दर्भ में आदेश भी जारी कर दिए गए हैं. मेडिकल कॉलेज दवाई, सर्जरी और परामर्श निशुल्क उपलब्ध कराएगा. यही नहीं कॉलेज पीड़ितों के रहने और खाने का भी खर्च उठाएगा.

और पढ़े -   देहरादून: मिशन 2019 से पहले बीजेपी को बड़ा झटका, छात्रसंघ चुनाव में एबीवीपी का सूपड़ा साफ

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE