नई दिल्ली: दिल्ली में गणतंत्र दिवस को लेकर बरती जा रही चौकसी के मद्देनजर उस समय सनसनी फ़ैल गयी जब पुलिस ने रोड रेज के एक आरोपी अमित के घर छापा मारा और तलाशी ली तो एके-47 के बायोनेट और भारी मात्रा में एसएलआर के कारतूस पाये गए ।

ग्रामीण सेवा व कार में हल्की टक्कर को लेकर हुए विवाद में पुलिस ने जब कार चालक को पकड़ने के लिए उसके घर छापा मारा तो वहां से एके-47 के बायोनेट (संगीन यानी नाल के सिरे के पास लगाने वाला चाकू) व एसएलआर के कारतूस समेत कई हथियारों के कारतूस मिले। उत्तरी जिला पुलिस समेत आइबी व स्पेशल सेल युवक से पूछताछ में जुट गई है।amit-kumars-house-who-lives-in-delhi-found-ak-47-bayonetउत्तरी जिला के डीसीपी मधुर वर्मा के मुताबिक गिरफ्तार किए गए युवक का नाम अमित कुमार है। वह मूलरूप से सोनीपत, हरियाणा का रहने वाला है लेकिन बुराड़ी में तोमर कॉलोनी में परिवार के साथ रहता है। उसने गाजियाबाद से एमबीए किया हुआ है और बुराड़ी में मसल मास्टर नाम से जिम चलाता है।

बीते 18 जनवरी को बुराड़ी इलाके में अमित कुमार की कार की ग्रामीण सेवा से हल्की टक्कर हो गई थी। इस बात को लेकर ग्रामीण सेवा के चालक आजाद से उसका झगड़ा हो गया था। अमित ने कार से रॉड निकालकर आजाद की पिटाई करने के बाद मौके से भाग गया था।

बुराड़ी थाना पुलिस ने आजाद की शिकायत पर अमित कुमार के खिलाफ गैर इरादतन हत्या के प्रयास की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया था।शनिवार को पुलिस की टीम ने जब अमित को दबोचने के लिए उसके घर पर दबिश दी तो वह भागने में सफल हो गया।

पुलिस अधिकारियों ने जब उसके घर की तलाशी ली तो घर से एक कट्टा, 2 खुखरी, एक तलवार, 12 बोर की बंदूक के 18 कारतूस, 315 बोर के 5 कारतूस, एसएलआर का एक कारतूस, प्वाइंट 32 बोर के 6 कारतूस, 7.62 बोर के 11 कारतूस, एके-47 का बायोनेट (संगीन) व वारदात में उपयुक्त डंडा बरामद हुआ।

अमित के घर से भारी मात्रा में कारतूस मिलने की वजह से उसके खिलाफ आर्म्स एक्ट की धारा के तहत भी मुकदमा दर्ज कर लिया गया। छानबीन के बाद रविवार को अमित को बुराड़ी इलाके से दबोच लिया गया।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें